शादियों के सीजन में कैश की किल्लत, कैश लेस एटीएम…

0


हैलो बीकानेर,। बीकानेर शहर में अभी शादियों का माहौल है। मल मास उतरते ही बीकानेर शहर में शादियां शुरू हो गई है। वहीं कैश की किल्लत बरकरार है। शहर के अन्दरूनी क्षेत्र के अधिकतम एटीएम पिछले 2-3 दिनों से खाली पड़े हैं या खराब है। मौहता चौक में लगा स्टेट बैंक एटीएम तो एटीएम कार्ड ही स्वीकार नहीं कर रहा है कैश देने की बात तो बहुत बाद में होगी, थोड़ा आगे चलते ही आईडीबीआई का एटीएम है जिसका दरवाजा बंद मिला और बाहर लोग खड़े दिखाई दिए। लोगों का कहना था कि अन्दर कैश एटीएम में डाली जा रही है। पास में ही बैंक ऑफ बड़ौदा का एटीएम है वहां के लोगों ने बताया कि पिछले 3-4 दिनों से एटीएम में कैश नहीं आई, ठीक उसी के सामने स्टेट बैंक का एटीएम है वहां भी कैश नहीं है। नत्थुसर गेट के बाहर बैक ऑफ बड़ौदा का एक ब्रान्च ऑफिस है। बैंक के ठीक बाहर लगे एटीएम में भी कैश नहीं है। ऐसी स्थिति में ग्राहक के पास इतना समय नहीं होता कि खाली पड़ें एटीएमों की सूचना बैंकों में या किसी अधिकारी तक पहुचाएं। एटीएम की सुरक्षा की बात करें तो अलबता कई एटीएमों पर गार्ड भी उपस्थित नही थे और एटीएम मशीनों के बाहर लगे गेट के शिशे टुटे हुए पाये गये। इनका तो राम ही….
कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि नोटबंदी का असर अभी तक बरकरार है और वहीं 1 फरवरी को बीकानेर के पुष्करणा समाज का ऑलम्पिक सावा भी है जिसमें सैकड़ो शादियां होनी है। जनता भी अत्यधिक परेशान है क्योंकि आम जिन्दगी से हटकर शादियों में पैसों की खपत ज्यादा होती है वहीं बीकानेर शहर के अन्दरूनी एटीएम खाली होने से शादियों वाले परिवारों पर असर पडऩा स्वाभाविक है।