मंत्री मेघवाल ने ट्विट किया पायलट का वीडियो, लिखा- बस आत्ममुग्ध हो चुके मुख्यमंत्री …..

0
hellobikaner.com




हैलो बीकानेर न्यूज़ नेटवर्क, बीकानेर, hellobikaner.com राजस्थान में हुए पेपर लीक के मामलों पर भारतीय जनता पार्टी के नेता लगातार कांग्रेस सरकार को घेरते नज़र आ रहे है। इस सम्बन्ध में केंद्रीय संस्कृति एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने आज अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर सचिन पायलट का वीडियो पोस्ट किया है।

 

मंत्री मेघवाल ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा है की “लगातार हो रहे पेपर लीक, परीक्षा रद्द, व भर्ती घोटालों के कारण युवाओं का भविष्य अंधकारमय होने से आज सभी आहत हैं। बस आत्ममुग्ध हो चुके मुख्यमंत्री को ही समझ में नहीं आता।”

 

 

यह वीडियो कल नागौर में हुए किसान सम्म्लेलन का है जिसमें कांग्रेस नेता सचिन पायलट बोल रहे है की नौजवानों के भविष्य की चिंता हम सब लोगों को है मै सच बताता हूँ की जब में अख़बार में खबर पढता हूँ, देखता हूँ की हमारे प्रदेश में कभी पेपर लीक हो गए, कभी परीक्षा कैंसिल हो गई तो मन आहात होता है।

 

 

 

पायलट ने कहा की इससे मन में पीड़ा होती है की लाखों बच्चों और गाँव के नौजवान अगर परीक्षा की तैयारी करता है तो उसके माता पिता को कितनी यातनाएं कितनी पीड़ा सहन करनी पड़ती है। वो कहाँ से किताबों और ट्यूशन के पैसे लता है और विपरीत परिस्थियों में पढाई कर परीक्षा की तैयारी करता है। जब ऐसा प्रकरण सामने आता है तो सच में मन आहात होता है। 

आप को बता दें कल देर रात सचिन पायलट बीकानेर पहुंचे थे। सचिन पायलट ने यहाँ बीकानेर की पूर्व जिला प्रमुख सुशीला सींवर के निवास पहुंचकर उनसे मुलाकात की एवं कार्यकर्ताओं से संवाद भी किया। सचिन पायलट के बीकानेर आने से पहले सचिन पायलट और सुशीला सींवर का पोस्टर काफी चर्चा में रहा था।

 

 

अर्जुन मेघवाल राजस्थान की कांग्रेस सरकार को अपने भाषणों में लगातार घेरते नज़र आते है। इससे पहले मेघवाल अपने ट्विटर अकाउंट पर एक और पोस्ट की जिसमें साफ़ लिखा है की राजस्थान से अवैध अतिक्रमण हटाना है तो कांग्रेस को हटाना होगा।

इस साल राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी पूरी तैयारी में नज़र आ रही तो दूसरी तरफ कांग्रेस सरकार हर कीमत पर सरकार रिपीट करना चाहती है। गहलोत सरकार एक एक दिन का उपयोग कर रही है आये दिन घोषणाएं हो रही है। सोशल मीडिया पर दोनों ही पार्टियों के नेता एक दुसरे पर आरोप लगाते नज़र आते रहते  है।