प्रगतिशील किसानों को कृषि विश्वविद्यालय स्तर पर किया सम्मानित

0
hellobikaner.com




हैलो बीकानेर न्यूज नेटवर्क, चूरू, मदनमोहन आचार्य कृषि विज्ञान केन्द्र पोकरण के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ बलबीर सिंह ने बताया कि किसी कार्य को करने का जूनून और जज्बा जिसमें है वो खेती के हर नवाचार को सफलता की सीढ़ी की ओर ले जाता है, जिसका उदाहरण पोकरण क्षेत्र के प्रगतिशील किसान जसराज पुत्र राणा राम माली निवासी पोकरण एवं खेता राम पुत्र सीता राम निवासी जैमला ने सब्जियों एवं पशुपालन की खेती में नवाचार कर एक सफल नवाचारी होने का प्रमाण सिद्ध किया है।

 

 

 

समय समय पर कृषि विज्ञान केन्द्र पोकरण से पशुपालन एवं सब्जी उत्पादन पर आयोजित किये गए प्रशिक्षणों में भाग लेकर अपनी 12 बीघा जमीन पर खेती करने हेतु सूक्ष्म सिंचाई पद्त्ति से टमाटर लगाने के साथ फूलगोभी, बैगन, मूली, गाजर इत्यादि सब्जियों को वैज्ञानिक तरीके से लगाया जिसके परिणामस्वरूप वे आज 7 लाख रूपये प्रति वर्ष शुद्ध लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

 

 

किसान खेता राम ने बकरी पालन में नस्ल सवर्धन एवं सरक्षण में सराहनीय कार्य करके आसपास के अन्य किसानों को भी पशुपालन एवं  सब्जी उत्पादन करने के लिए प्रेरित किया। इनके नवाचारी प्रयासों के आधार पर इन्हें  किसान दिवस के अवसर पर चौधरी चरण सिंह की स्मृति में खेती में नवाचार एवं उत्कृष्टता एवं किसानों के हितों के लिए उल्लेखनीय कार्य हेतु डॉ अरुण कुमार, माननीय कुलपति, स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविध्यालय, बीकानेर द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।