उत्पाद की सफलता में क्वालिटी, पैकिंग व मार्केटिंग आवश्यक- जिला कलक्टर

0


हैलो बीकानेर,। जिला कलक्टर वेदप्रकाश ने कहा कि किसी भी उत्पाद को सफल बनाने में उच्च स्तरीय क्वालिटी, पैकिंग व मार्केटिंग की आवश्यकता होती है। जिला कलक्टर शुक्रवार को बीकानेर जिला उद्योग संघ कार्यालय परिसर म­ आयोजित एक दिवसीय क्रेता-विक्रेता सम्मेलन के उद्घाटन सत्रा में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। सम्मेलन का आयोजन उद्यम प्रोत्साहन संस्थान व जिला उद्योग संघ के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। जिला कलक्टर ने कहा कि क्रेता-विक्रेता का अन्तर्सम्बन्ध होता है। किसी भी उत्पाद को सफल बनाने में क्वालिटी, पैकिंग व मार्केटिंग की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा कि शहर की कला व संस्कृति के क्षेत्रा में विशिष्ट पहचान है, साथ ही औद्योगिक विकास की दृष्टि से भी जिले का नाम हो रहा है। उन्होंने कहा कि पशुपालक अपने पशुओं को हरा चारा दंे, जिससे दुग्ध उत्पादन बढ़ सके।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महापौर नारायण चौपड़ा ने कहा कि जिले के उद्यमियों ने मौठ, ग्वार, सांगरी, केर आदि खाद्यान्नों को एक अलग पहचान दिलाई है। उन्होंने बताया कि शहर में लगभग 65 प्राचीन कुएं हैं, जिनका पानी अत्यन्त शुद्ध व मीठा है। उन्होंने सभी उद्यमियों से आग्रह किया कि वे एक-एक कुंए को गोद लेकर उसका विकास करें। उन्होंने उद्यमियों से कहा कि वे औद्योगिक क्षेत्रों में साफ सफाई व्यवस्था सुचारू रखने में अपना सहयोग दें। औद्योगिक अपशिष्ट का उचित निस्तारण किया जाए। पशुपालक अपने पशुओं को सड़कों पर खुला न छोडं़े।

विशिष्ट अतिथि बीएसएफ के डीआईजी यशंवत सिंह ने कहा कि बीकानेर में उच्च स्तरीय उत्पादों का निर्माण हो रहा है व यहां औद्योगिक विकास की काफी संभावनाएं हैं। उन्होंने उद्यमियों को आवश्यकतानुसार सहयोग देने की बात कही। उद्योगपति शिवरतन अग्रवाल ने कहा बीकानेर के नमकीन उद्योग के विश्व स्तर पर पहचान मिली है। यहां डेयरी पीओपी, गलीचा, चद्दर आदि उद्योग भी विकसित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि उद्योगों का विकास करने के लिए कार्य योजना बनाकर साहस से प्रयास किए जाएं। डॉ सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा उद्यम विकास के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। उन्होंने दाल के उत्पाद वाजिब कीमत पर आमजन को मिलने की आवश्यकता जताई।

जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक आर के सेठिया ने बताया कि बीकानेर म­ पहली बार आयोजित इस सम्मेलन म­ बीकानेर के प्रसिद्ध उत्पाद, जो सरकारी विभागों म­ सप्लाई होते हैं, की स्टॉल्स लगाई गई हैं। साथ ही तीन तकनीकी सत्रों के दौरान सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम संस्थान जयपुर के द्वारा भारत सरकार की क्रय नीति एवं क्रय प्रणाली तथा सूक्ष्म ,लघु एवं मध्यम उद्यमों को सरकारी क्रय म­ दी जाने वाली वरीयता के बारे म­, राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम,जयपुर द्वारा एकल खिड़की पंजीयन योजना तथा एक्सपोर्ट प्रोमोशन कांउसिल द्वारा निर्यात संभावनाओं एवं प्रोत्साहन के संबंध म­ जानकारी दी गई।

जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी पी पच्चीसिया ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम में अशोक मोदी, प्रज्ञा नौलखा ने भी विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त आर. के. जायसवाल, डॉ. मीना आसोपा, सुभाष मित्तल, महेश बिस्सा, अतुल शर्मा, राजेन्द्र अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में उद्यमी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन ज्योतिप्रकाश रंगा ने किया।

लगाई गईं अनेक स्टॉल्स- आयोजन स्थल पर बीकानेर के सर्वाेत्कृष्ट उत्पादों यथा फाउंड्री उत्पाद, डेयरी उत्पाद, खाद्य प्रसंस्करण उत्पाद, वूलन कारपेट एवं अन्य वूलन उत्पाद, सिरेमिक उत्पाद, इलेक्ट्रिक केबल व वायर्स, सीम­ट मोजाईक टाईल्स तथा पेवर ब्लॉक, फाईबर कूलर, रोटी मेकर मशीन, टैक्सटाईल एवं केमिकल उत्पाद, आयुर्वेद मेडिसन आदि की स्टॉल्स लगाई र्गइं।