स्व. मक्खन जोशी की पुण्यतिथि पर ‘सेव एनवायरमेंट सेव ह्यूमन’ के राज्य स्तरीय अभियान की हुई शुरूआत

0


पर्यावरण संतुलन बनाए रखना बड़ी चुनौतीः डॉ. विश्वनाथ

हेलो बीकानेर,। नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष स्वर्गीय मक्खन जोशी की पुण्यतिथि के अवसर पर शनिवार को स्व. मक्खन जोशी वेलफेयर सोसायटी की ओर से ‘सेव एनवायरमेंट सेव ह्यूमन’ अभियान के दूसरे चरण की राज्य के छह नगर निगम क्षेत्रों में एक साथ शुरूआत हुई। जयपुर में अभियान की शुरूआत शुक्रवार को ही हो गई थी। बीकानेर का जिला स्तरीय समारोह पिंक मॉडल सीनियर सैकण्डरी स्कूल में हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव डॉ. विश्वनाथ मेघवाल थे। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाना आज सबसे बड़ी चुनौती है। आज प्रकृति के दोहन की प्रवृति से पर्यावरण का संतुलन बिगड़ने लगा है। यह समूची मानव जाति के लिए खतरा है। उन्हाेंने कहा कि हमें पर्यावरण संरक्षा के प्रति जागरूक होना होगा। संसदीय सचिव ने कहा कि मक्खन जोशी ने अपना समूचा जीवन जरूरतमंदों और पिछड़े तबके के लोगों की सेवा को समर्पित कर दिया। उनकी स्मृति में ऎसे अभियान आयोजित करना उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है। उन्होंने कहा कि श्री मक्खन जोशी वेलफेयर सोसायटी जैसी संस्थाओं द्वारा पर्यावरण रक्षा जैसे सामरिक विषयों पर जनजागरण की पहल करना अनुकरणीय है। इसे जन-जन का अभियान बनाना चाहिए। महापौर नारायण चौपड़ा ने कहा कि प्रकृति के असंतुलन की वजह से अनावृष्टि और अतिवृष्टि जैसी गंभीर समस्याएं पैदा होती हैं। आज पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ने लगा है, जिससे मौसम चक्र प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि मक्खन जोशी ने बीकानेर की राजनीति में नए आयाम स्थापित किए। वे छत्तीस कौम को साथ लेकर चलने वाले जनप्रतिनिधि थे। डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा कि देखादेखी और पाश्चात्यकरण की हौड़ में हम प्रकृति को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

यदि अब भी हम नहीं जागे, तो भयावह परिणाम सामने आएंगे। उन्होंने कहा कि स्कूलों एवं कॉलेजों में पर्यावरण के प्रति चेतना का अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि सोसायटी द्वारा शिक्षा, स्वच्छता, चिकित्सा और पर्यावरण सुरक्षा जैसे विषयों पर कार्य किया जा रहा है, इसके लिए संस्था साधुवाद की पात्र है। नंद किशोर सोलंकी ने कहा कि मक्खन जोशी बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी थे। युवाओं को उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व से सीख लेनी चाहिए। अरविंद मिढ्ढा ने कहा कि वे सबको साथ लेकर चलने वाले व्यक्ति थे। विजय आचार्य ने कहा कि जो उनके संपर्क में आया, वो उनका बन गया। अविनाश व्यास ने कहा कि उनकी साहित्य सृजन में भी गहरी रूचि थी। पूर्व पार्षद परमानंद ओझा ने कहा कि उन्होंने अपना समूचा जीवन आमजन के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया। सोसायटी के अध्यक्ष शांति प्रसाद बिस्सा ने बताया कि वर्ष 2001 में श्री मक्खन जोशी के निधन के बाद संस्था का गठन किया गया। उनकी स्मृति में प्रतिवर्ष संस्था द्वारा सामाजिक सरोकारों के विभिन्न कार्य किए जा रहे हैं। कार्यक्रम का संचालन करते हुए अविनाश जोशी ने बताया कि 14 जनवरी 2016 को जिला स्तर पर ‘सेव एनवायरमेंट सेव ह्यूमन’ अभियान प्रारम्भ हुआ। पहले चरण के आशातीत परिणाम आने पर अब इसे बीकानेर सहित राज्य के सातों नगर निगम क्षेत्रों में प्रारम्भ किया जा रहा है। पिंक मॉडल स्कूल के प्राचार्य राजीव व्यास ने स्कूल द्वारा पर्यावरण संरक्षण की दिशा में आयोजित गतिविधियों की जानकारी दी। इससे पहले अतिथियों ने अभियान के दूसरे चरण के लोगो का विमोचन किया। संस्था की ओर से जुगल किशोर जोशी मंच पर मौजूद रहे। इस अवसर पर पार्षद लक्ष्मीनारायण व्यास, नरेश जोशी, श्याम सुंदर चांडक, राजेन्द्र शर्मा, आनंद व्यास, ओमप्रकाश सोनगरा, पाबूदान सिंह, अशोक प्रजापत, डॉ. पीएस बोहरा, प्रेरणा पारीक, दिनेश ओझा, भवानी सिंह खारा, रावतसर सरपंच सुमेश सिंह भाटी, जाकिर अदीब, नवरत्न व्यास सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। नगर निगम क्षेत्रों में शुरू हुआ अभियान श्री मक्खन जोशी वेलफेयर सोसायटी के तत्वावधान् में ‘सेव एनवायरमेंट सेव ह्यूमन’ अभियान शनिवार को बीकानेर के अलावा कोटा, उदयपुर, अजमेर, भरतपुर और जोधपुर नगर निगम क्षेत्रों में प्रारम्भ हुआ। जोधपुर में महापौर घनश्याम ओझा, कुणाल, वरूण धांधिया, जीतेन्द्र वैष्णव ने लोगो का विमोचन किया। कोटा में महापौर महेश विजय, हेमंत विजय, अरविंद सिसोदिया, विशाल जोशी, मुकेश विजय, मयंक सेठी, प्रणय विजय, सुनील पोकरा, रोहित गर्ग, हेमंत मेवाड़ा, दीप सेठी, रोहित जैन, दीनदयाल, सुमन, मनीष, संदीप कपूर तथा सचिन मिश्रा ने नगर निगम क्षेत्र में अभियान की शुरूआत की। अजमेर में महापौर धमेन्द्र गहलोत, अनुपम गोयल और अनीष मोयल ने तथा उदयपुर में महापौर चंद्रसिंह कोठारी, भूपेश पंचोली ने अभियान का शुभारम्भ किया।