समाज एक ऐसा मन्दिर है जहां राजनीति रूपी जुते उतार कर प्रवेश करना चाहिए : मधु आचार्य ‘आशावादीÓ

0



बीकानेर पुष्करणा समाज के साहित्यकारों, पत्रकारों, रंगकर्मीयों, राजनीतिज्ञयों को पुष्करणा समाज नोहर ने किया सम्मान….
नोहर,। अखिल भारतीय पुष्टिकर सेवा परिषद व पुष्टिकर समिति, नोहर द्वारा बीकानेर के साहित्कारों, पत्रकारों, रंगकर्मीयों व राजनीतिज्ञयों का नोहर में सम्मान समारोह आयोजित दिनांक १७ दिसम्बर को नेवरो का मौहल्ला स्थित बिहानी सेवा सदन में किया गया। नोहर पुष्करणा समाज ने साहित्यकार आनंद वी. आचार्य, मुध आचार्य ‘आशावादीÓ, संजय आचार्य ‘वरुणÓ, पत्रकार राजेश ओझा, रंगकर्मी रामसहाय हर्ष, राजनीतिज्ञ आनंद जोशी का शॉल व सम्मान पत्र भेट कर सम्मान किया गया। इस अवसर पर मधु आचार्य ने कहा कि समाज एक ऐसा मन्दिर है जहां राजनीति रूपी जुते उतार कर प्रवेश करना चाहिए। आनंद वी. आचार्य ने कहा कि समाज संख्यात्मक रूप से छोटा हो या बड़ा महत्व इस बात का नहीं होता बल्कि महत्व इस बात का होता है कि समाज में संगठन भाव कितना है। नोहर समाज में समाज की प्रतिभाओं को सम्मानित कर उन्हें और आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया है। वरिष्ठ रंगकर्मी रामसहाय हर्ष ने कहा कि प्रतिभाओं को बड़े-बड़े सम्मान व पुरस्कार मिलते है लेकिन जब उन्हें अपने समाज द्वारा सम्मानित किया जाता है तब यह वास्तविक सम्मान होता है। साहित्यकार संजय आचार्य वरुण ने कहा कि नोहर समाज की युवा शक्ति भरपूर उर्जा से लबरेज है जो समाज के लिए एक शुभ संकेत है। राजनीतिज्ञ आनंद जोशी ने कहा कि इतिहास गवाह है कि संसार में क्रान्तियों का जन्मदाता ब्राह्मण ही रहा है उन्होंने चाणक्य और परशुराम का उदाहरण देते हुए कहा कि ब्राह्मण विश्वास का दूसरा नाम है। पत्रकार राजेश ओझा ने कहा कि समाज की विभूतियों का सम्मान करके नोहर समाज ने सामाजिक निरपेक्ष दृष्टि का परिचय दिया है। उन्होंने सामाजिक एकता में सोशल मिडिया के महत्व को उजागर किया।

वरिष्ठ साहित्यकार व समाजसेवी दुर्गेश जोशी के सान्निध्य में हुवें इस कार्यक्रम का संचालन प्रदीप पुरोहित ने किया। इस अवसर पर पुष्टिकर समिति के अशोक जोशी, प्रदीप पुरोहित, आशीष पुरोहित, जगदीश जोशी, सत्यनारायण जोशी, मदन जोशी, हरीश जोशी व नोहर पुष्करणा समाज के कैलाश जोशी, मनोज जोशी, दयाल पुरोहित, मालचन्द पुरोहित, कमल पुरोहित, आयुष पुरोहित, पुरोषतम जोशी, गजेन्द्र जोशी, देवेन्द्र जोशी, किशन लाल जोशी, बजरंग जोशी,किशन जोशी, दीप पुरोहित, मालचन्द व्यास, अश्विनी व्यास, मनोज व्यास, बुद्धिप्रकाश जोशी सहित पुष्करणा नोहर समाज के अन्य गणमान्यजन उपस्थित थे ।