बासी-बरसिंहसर में कुछ माह में ही बंद हुई सोलर लाइटें, ग्राम पंचायत मौन

0


बीकानेर। बासी-बरसिंसर में ग्राम पंचायत द्वारा ग्रामवासियों को रात्रि में प्रकाश व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए गांव में रोड पर सोलर लाइट लगाई गई थी। इन सोलर प्रोजेक्ट में हजारों रुपयों की लाइट लगाई गई थीं। लेकिन एक साल के भीतर ही ये लाइट खराब हो गई। लाईट लगने के बाद ही ग्राम पंचायत ने इन लाईटों को भूल गई और भगवान भरोसे यह कुछ दिन तक तो जली और बंद हो गई। इन लाईटों की बैन्ट्रियां तक चोरी हो गई।
ग्राम पंचायत के गैर जिम्मेदार रवैये से ग्रामवासी बेहद त्रस्त है तथा बार-बार ध्यान दिलवाने के बाद भी सरपंच लगातार अनदेखी कर रहे है। सौर लाइटें लगी हैं उनकी देखरेख की जिम्मेदारी संबधित पंचायत की है। ग्राम पंचायत अपना कर्तव्य भूल कर मौन धारण किए हुए है तथा लाइटों को ठीक करवाने के लिए कोई जहमत उठाने के मूड में नजर नहीं आ रही है।

बंद पड़ी सोलर लाइटें पर ग्रामवासियों ने जताया रोष

ग्राम पंचायत के गैर जिम्मेदार रवैये से बासी-बरसिंहसर के ग्रामवासियों में रोष व्याप्त है। गांव में बंद पड़ी रोड लाईटों को शीघ्र शुरू करवाने की मांग को लेकर मंगलवार को देहात कांग्रेस के पूर्व महासचिव/ डूंगर कॉलेज के पूर्व अध्यक्ष शिवलाल गोदारा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया। छात्र नेता गोदारा ने बताया कि अगर समय रहते हुए बंद पड़ी सोलर लाइटों को ठीक नहीं किया गया तो उग्र प्रदर्शन किया जायेगा जिसकी समस्त जिम्मेवारी ग्राम पंचायत की होगी। प्रदर्शन करने वालो में अर्जुनराम कड़वासरा, कैलाश जाखड़, सहीराम कस्वां, बजरंग मेघवाल, मोटाराम गोदारा, राजकुमार, ओमप्रकाश गोदारा, गोपालाराम गोदारा, राधाकिशन सहित कई ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया।