विधार्थी जीवन छोटे उद्देष्य के लिए न जियेः प्रजापति

0


चूरू,जितेश सोनी ।रामावि ढाढरिया बणीरोत के प्रांगण में शैक्षणिक मोटिवेशनल सेमीनार में विधार्थी को जीवन कौशल विकास विषय पर संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता किशोर न्याय बोर्डए सदस्य एडवोकेट रामेश्वर प्रजापति ने कहा कि गल्तियों की पुनरावर्ती से व्यक्ति की प्रगति अवरूद्ध हो जाती है। अतित का बोध हमें गल्तिया ंसे बचाता है। विद्यार्थी का स्वपन बड़ा होना चाहिए। स्वपन ही वास्तविकता का रूप लेता है। जीवन को छोटे उद्देश्य के लिए नहीं जीना चाहिए। हर सुन्दर व्यक्ति सफल नहीं होता,बल्कि सफलता व्यक्ति को सुन्दर बनाती है। जीवन में सोच सकारात्मक रखना ही सफलता की सिढी है। जीवन के क्षैतिज में वो हीं पहुंचते है। जो पूर्वाग्रह नहीं रखते है। सद्विचारों के बल पर हम पराजय को बदल सकते है। प्रजापति ने विद्यार्थियों को बारह गुणा पढाई के फामुर्लें से पढने व आगे बढने की सलाह दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता शाला प्रधान रामस्वरूप बजाड़िया ने की। इस अवसर पर बृजलाल मीणा,अनिल शर्मा, मनोज मोदी,प्रतुराम, परमेश्वरलाल, एडवोकेट सुमित्रा, लक्ष्मी चैधरी आदि ने अपने विचार व्यक्त किये। संचालन धनराज बुन्देला ने किया।