जिले के पशुपालको ने जानी हाइड्रोपोनिक्स तकनीक से हरा चारा उत्पादन की विधि

0



unnamed (1) 004

हैलो बीकानेर,। वेटरनरी विश्वविद्यालय के पशुधन चारा संसाधन प्रबंधन एवं तकनीक केन्द्र द्वारा हाइड्रोपोनिक्स तकनीक से हरा चारा उत्पादन और उन्नत पशु पोषण पर दो दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार को संपन्न हो गया। प्रशिक्षण प्रभारी एवं प्रसार शिक्षा निदेशक प्रो. आर.के. धूड़िया ने बताया कि प्रशिक्षण में जिले के 27 पशुपालक-कृषकों ने भाग लिया। इस अवसर पर प्रो. धूड़िया ने कहा कि उन्नत पशु पोषण और हरा चारा खिलाकर पशुओं से अधिक उत्पादन की उम्मीद की जा सकती है। स्वस्थ पशुधन के लिए संतुलित आहार आवश्यक है। सभी प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किये गए। प्रशिक्षण में पशु पोषण, पौष्टिक और संतुलित आहार की विभिन्न तकनीकी पक्षों पर विषय विशेषज्ञों की वार्ताओं का आयोजन किया गया। पशुपालकों को हाइड्रोपोनिक्स तकनीक से हरे चारे की विभिन्न किस्मों की पैदावार की प्रायोगिक जानकारी दी गई। अजोला हरा चारा और वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने की इकाइयों की कार्यप्रणाली को देखा। प्रशिक्षणार्थियों ने राजुवास तकनीक म्यूजियम का भी भम्रण किया।