AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रखकर शपथ का उल्लंघन किया है। यह लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन है।

ओवैसी ने कहा की प्रधानमंत्री ने आज कहा कि वह भावुक थे मैं कहना चाहता हूं कि मैं भी उतना ही भावुक हूं क्योंकि मैं सह-अस्तित्व और नागरिकता की समानता में विश्वास करता हूं। प्रधानमंत्री, मैं भावुक हूं क्योंकि एक मस्जिद 450 साल से वहां खड़ी थी।