सदीय सचिव एवं न्यास अध्यक्ष ने किया नारी निकेतन का अवलोकन

0


बीकानेर। संसदीय सचिव डॉ. विश्वनाथ मेघवाल एवं नगर विकास न्यास अध्यक्ष महावीर रांका ने सोमवार को पवनपुरी स्थित नारी निकेतन का अवलोकन किया।
मेघवाल और रांका ने नारी निकेतन परिसर में मस्त मंडल सेवा संस्था द्वारा बालिका गृह के लिए बनाए जा रहे नए भवन का अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि भवन का निर्माण निर्धारित नक्शे के अनुसार किया जाए। निर्माण में गुणवत्ता और समयबद्धता का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नारी निकेतन परिसर को ‘मॉडल केन्द्र’ के रूप में विकसित किया जाए। यहां साफ-सफाई रखने, आकर्षक भित्ति चित्र बनाने और पेड़-पौधे लगाने को कहा, जिससे यहां रहने वाले बच्चों, बालिकाओं और महिलाओं को परिवार जैसा माहौल मिल सके।
9-nari-niketan-me-niriksan-mahavir-ranka-or-megwal-2
महिलाओं द्वारा बनाई सजावटी सामग्री देख हुए अभिभूत
संसदीय सचिव ने नारी निकेतन, बालिका गृह और शिशु गृह का अवलोकन किया। नारी निकेतन में रहने वाली महिलाओं द्वारा बनाई गई सजावटी सामग्री देखकर वे अभिभूत हो गए। नारी निकेतन अधीक्षक कविता स्वामी ने बताया कि महिलाओं द्वारा अखबारी कागज से फोटो फ्रेम, ट्रे, सजावटी झूले आदि बनाए गए हैं। इसी प्रकार कपड़ों पर कसीदाकारी भी की गई है। स्वामी ने महिलाओं द्वारा बनाई गई सामग्री की प्रदर्शनी लगाने की अनुमति सरकार दिलाने का आग्रह किया।

बच्चों के साथ खेला टेनिस

संसदीय सचिव एवं न्यास अध्यक्ष लगभग एक घंटे बच्चों के साथ रहे। ससंदीय सचिव ने बालिका गृह के बच्चियों को चॉकलेट बांटी। उनकी रहन-सहन तथा शिक्षा-दीक्षा की जानकारी ली। दोनों ने बच्चों के साथ टेनिस खेला और कहा कि इन बच्चों को आधारभूत सुविधाओं की कमी नहीं रहे। उन्होंने शिशु गृह के बच्चों पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। इस दौरान बालिका गृह अधीक्षक किशनाराम, दिनेश यादव, पवन महणोत, कुलदीप यादव, महावीर चौपड़ा, विक्की गहलोत आदि मौजूद थे।
नगर के विकास की संभावनाओं पर की चर्चा
संसदीय सचिव ने सोमवार को नगर विकास न्यास अध्यक्ष के साथ यूआईटी में नगर के विकास की संभावनाओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि बीकानेर को साफ-सुथरा और स्वच्छ बनाने की कार्ययोजना तैयार की जाए। नगर के प्रवेश मार्गों को सुंदर बनाने, भित्ति चित्र बनाने सहित न्यास की कॉलोनियों में आधारभूत सुविधाओं के विस्तार के संबंध में चर्चा की। इस दौरान सलीम भाटी भी मौजूद रहे। फोटो राजेश छंगाणी