पुष्करणा सावे से पहले समाज को उचित प्रतिनिधित्व दिलाने की मांग

0



बीकानेर। राजस्थान में पुष्करणा ब्राह्मणों के सशक्त संगठन पुष्करणा ब्राह्मण परिषद संस्था के प्रदेशाध्यक्ष महेश व्यास ने राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे को एक पत्र लिखकर अवगत कराया है कि उनके द्वारा अपने मंत्रीमण्डल में किए गए विस्तार, संसदीय सचिवों और विभिन्न बोर्डों और निगमों में की गयी राजनैतिक नियुक्तियों में राजस्थान के पुष्करणा ब्राह्मण समाज की लगातार उपेक्षा किए जाने से राजस्थान का सम्पूर्ण पुष्करणा ब्राह्मण समाज आहत है और सम्पूर्ण समाज में घोर रोष व्याप्त है। उन्होंने राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे से आग्रह किया है कि आगामी 1 फरवरी को बीकानेर संभाग मुख्यालय पर पुष्करणा समाज के सामूहिक सावा (ओलम्पिक) से पहले समाज से जुड़े व्यक्ति को सरकारी राजनैतिक नियुक्तियां देने की मांग की है। परिषद के राजेश चूरा, शिवनारायण पुरोहित, रामकुमार व्यास मुन्ना महाराज, रतना महाराज, मोटूलाल हर्ष ने बताया कि राजस्थान के जोधपुर, बीकानेर, जैसलमेर, पाली, नागौर, उदयपुर, चित्तौडग़ढ़, फलोदी, पोकरण, किशनगढ़, खैरथल तथा प्रतापगढ़ आदि स्थानों में बसे लाखों पुष्करणा ब्राह्मणों द्वारा दिए गए सहयोग एवं योगदान तथा समाज की भावनाओं को ध्यान में रखकर उन्हें अपने मंत्रिमण्डल और विभिन्न बोर्डों और निगमों में नियुक्तियों में उचित प्रतिनिधित्व दिया जावे। यह प्रतिनिधित्व भी पुष्करणा सावे से पहले दिया जाए तो समाज को एक गौरव हासिल हो सके।