चूरू, जितेश सोनी । जिलाशिक्षा अधिकारी (प्राथमिक शिक्षा) तेजपाल उपाध्याय ने कहा कि राजकीय कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विधालय की बालिकाऐं आठवीं उतीर्ण कर आगे भी उच्च शिक्षा का अध्ययन जारी रखे तथा उड़ान सीरियल के एक प्रेरक पात्र की तरह संकल्प लेकर पुलिस अफसर, डाॅक्टर, नर्स, अध्यापक अथवा अपनी रूचि के मुताबिक कुछ न कुछ बनकर अपना अपने माता पिता तथा अध्यापकों का नाम रोशन करें। स्थानीय रा.क.गा.बा विधालय के वार्षिकोत्सव की अध्यक्षता करते हुये उपाध्याय ने सलाह दी कि आठवी के बाद इसी तरह के शारदे विधालय में अथवा अन्य राजकीय माध्यमिक विधालय में प्रवेश लेकर उच्च अध्ययन अवश्य करें। स्मारोह में मुख्यअतिथि पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर कर्मवीर कूकणा ने प्रतिवर्ष 8वीं टाॅप रहने वाली इस विधालय की एक बालिका को व्यक्तिगत रूप से सिल्वर मैडल देने की घोषणा की। इस अवसर पर पंचायत समिति बी ई ओ सन्तोष महर्षि, एडीपीसी एसएसए बजरंग सैनी और कार्यक्रम सहायक अशोक शेखावत विशिष्ठ अतिथि ने भी सम्बोधित किया। समारोह में प्रधानाध्यापिका सुशीला सहारण,संयोजक मधु सोढा, सुरज्ञान कंवर, संतोष, सुकेश, उषा, विनोद, अनिता, कृष्णा आदि अध्यापिकाओं सहित बालिका रविना ने भी सम्बोधित किया। प्रारम्भ में सर्व शिक्षा अभियान के एडीपीसी बजरंग सैनी ने रा कस्तुरबा गांधी बालिका विधालय की गतिविधीयों पर प्रकाश डालते हुये स्पष्ट किया कि गत दिनों इस विधालय की सोनू कुल्हरी ने बैडमिंटन में स्टेट विनर बनकर और बिड़ला आॅडिटोरियम में आयोजित सांस्कृतिक समारोह में विधालय की बालिकाओं ने द्वितिय स्थान प्राप्त कर यह साबित कर दियाकि यहां शिक्षा के साथ साथ सांस्कृतिक गतिविधीयां भी अन्य विधालयों की तरह जारी रहती है ताकि भविष्यमें बालिकायें खेलकूद कला संस्कृति में अपनी विशिष्ठ पहचान कायम कर सके।

LEAVE A REPLY