बीकानेर(हैलो बीकानेर न्यूज़)। इस बार पहली बार अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव की शोभायात्रा में पुष्करणा सावे की झलक भी दिखाई देगी। शोभायात्रा 12 जनवरी को सुबह 11 बजे जूनागढ़ से निकलेगी। इस यात्रा में पूरी बारात व दूल्हा विष्णु स्वरूप में होगा। यह शोभायात्रा रमक झमक संस्था द्वारा निकाली जाएगी।

रमक़ झमक संस्था के प्रहलाद ओझा भैरू ने कहा कि यह बीकानेर की संस्कृति व पुष्करणा समाज के लिए गौरव की बात है। ओझा ने बताया कि शोभायात्रा में पुष्करणा परम्परा के अनुसार खिड़गिया पाग(साफा), बाजुबंध, तिलक, पुष्पमाला और पैरों में खड़ाऊ पहन कर चलेगा। पूरी शोभायात्रा के दौरान दुल्हा लौंकार की छत्रछाया में पैदल ही चलेगा।