हैलो बीकानेर। गायत्री प्रकाशन की ओर से प्रकाशित तीन साहित्यिक कृतियों का लोकार्पण रविवार 12 अगस्त को स्थानीय धरणीधर रंगमंच पर होगा। वरिष्ठ रंगकर्मी, पत्रकार, साहित्यकार मधु आचार्य ‘आशावादीÓ का व्यंग्य-कथा संग्रह ‘साहित्य की सीआरपीसीÓ, वरिष्ठ पत्रकार-उपन्यासकार प्रितपाल कौर द्वारा संपादित कहानी संकलन ‘परिवेश के स्वरÓ और युवा कवि-आलोचक डॉ.ब्रजरतन जोशी द्वारा संपादित कहानी संकलन ‘हिंदी कहानी : नया स्वरÓ का लोकार्पण सुबह 9.15 पर होगा।
Bikaner News: The release of three literary works on August 12
यह किताबें ‘जन तक सृजनÓ के अंतर्गत प्रकाशित की जा रही है। इस अभियान का उद्देश्य आम पाठकों तक समकालीन साहित्य पहुंचाना है। कार्यक्रम के समन्वयक अजीतराज ने बताया कि कार्यक्रम की अध्यक्षता समाजसेवी व पूर्व सरपंच रामकिसन आचार्य करेंगे। इस मौके पर दिल्ली से आ रहीं पत्रकार-उपन्यासकार प्रितपाल कौर भी रहेंगी। लोकार्पित कृतियों पर रचनाकार सीमा भाटी, ऋतु शर्मा और डॉ.संजू श्रीमाली टिप्पणी करेंगी। कार्यक्रम का संचालन हरीश बी. शर्मा करेंगे।
उल्लेखनीय है कि मधु आचार्य ‘आशावादीÓ रचित व्यंग्य कथा संग्रह सीआरपीसी ऐसी पहली कृति है, जिसमें एक ही विषय को व्यंग्य का आधार बनाया गया है। यह व्यंग्य संग्रह साहित्य-जगत की विसंगतियों पर चोट करता है।
‘परिवेश के स्वरÓ में समकालीन नौ कहानीकार अमिता नीरव, तेजेंद्र शर्मा, सुभाष अखिल, प्रियदर्शन, प्रत्यक्षा, जयंती रंगनाथन, गीताश्री, अभिषेक कश्यप, पंखुरी सिन्हा की कहानियां संकलित हैं। इस संकलन का संपादक प्रितपाल कौर ने किया है। इसी तरह ‘हिंदी कहानी : नया स्वरÓ का संपादक ब्रजरतन जोशी ने किया है, जिसमें शर्मिला जालान, मनोज पांडे, उमाशंकर चौधरी, प्रभात रंजन, आशुतोष मिश्र, इंदिरा दांगी, मनीषा कुलश्रेष्ठ, राकेश मिश्र, चंदन पांडे, मनोज रूपड़ा की कहानियां संकलित हैं। दोनों ही संकलन के कहानीकार राष्ट्रीय स्तर पर कहानी-विधा के प्रतिनिधि चेहरे हैं। इन कहानीकारों को पढ़ते हुए पाठक न सिर्फ नवीन कथ्य, शैली और प्रयोग से परिचित होंगे बल्कि कहानी में आ चुके बदलावों से भी परिचित होंगे।
Summary
Review Date
Reviewed Item
बीकानेर न्यूज़ : तीन साहित्यिक कृतियों का लोकार्पण 12 अगस्त को
Author Rating
41star1star1star1stargray