बीकानेर । बीकानेर पूर्व से पिछली बार कांग्रेस के टिकट से विधानसभा चुनाव लड़ने वाले गोपाल गहलोत की जगह पर इस बार नोखा से चुनाव लड़ने वाले कन्हैयालाल झंवर को टिकट दे दिया गया है। कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने और जिले में ओबीसी की अनदेखी करने से नाराज दिग्गज नेता गोपाल गहलोत ने बागी तेवर दिखाते हुए सोमवार को बीकानेर शहर की दोनों सीटों बीकानेर पूर्व तथा बीकानेर पश्चिम से नामांकन पत्र दाखिल कर दिए हैं।

इसके बाद उन्होंने पत्रकारों से विशेष बातचीत में कहा कि पार्टियां टिकटें बेच रही हैं, आमजन और संगठन के लिए काम करने वालों की कोई कद्र नहीं हो रही। उन्होंने बी. डी. कल्ला और गोपाल जोशी को निशाने पर लेते हुए साफ कहा कि हमने साला-बहनोई हटाओ, बीकानेर बचाओ अभियान शुरू कर दिया है। ये मूल ओबीसी की कोई राजनीतिक हैसियत ही नहीं समझते। हमें सिर्फ वोट के लिए इस्तेमाल करते हैं।

गहलोत ने कहा कि ये क्या बता हो गई कि, हमारे वोटों पर राज ही तुम करोगे और लात ही हमें ही मारोगे। हमने 35 दिनों तक आंदोंलन चलाया, मांगें मनवा कर ही माने और उधर, गोपालजी होटल में बैठे हैं, राजकुमारी लंदन में बैठी है, कल्लाजी कहीं और बैठे हैं।