रोहतक जेल में सजा काट रहे रेप के दोषी डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत इंसा उर्फ प्रियंका तनेजा की तलाश के लिए पुलिस ने तेज कर दी है. हरियाणा पुलिस को शक है कि हनीप्रीत गुरुग्राम के एम ब्‍लॉक में छिपी हो सकती है. हनीप्रीत को पकड़ने के लिए चार टीमें बनाई है. पुलिस को यह भी शक है कि हनीप्रीत के साथ आदित्‍य इंसा भी हो सकता है. दूसरी तरफ नेपाल बॉर्डर पर भी चौकसी बड़ा दी गई है. पुलिस को अंदेशा है कि हनीप्रीत नेपाल बॉर्डर से देश के बाहर जा सकती है. आपको बता दें कि हनीप्रीत इंसा और डेरा पदाधिकारी आदित्य इंसा के खिलाफ पंचकूला पुलिस ने लुकआउट नोटिस जारी किया है. पंचकूला पुलिस ने हनीप्रीत पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया है. साथ ही हनीप्रीत पर राम रहीम को कोर्ट से भगाने की साजिश में शामिल होने का आरोप है. हनीप्रीत पर आरोप है कि पंचकूला में हिंसा भड़काने में उसका भी हाथ है. राम रहीम को जब 25 अगस्त को पंचकूला में सीबीआई की विशेष अदालत में लाया जा रहा था तो हनीप्रीत उसके साथ ही थीं. स्पेशल कोर्ट द्वारा राम रहीम को बलात्कार का दोषी करार दिए जाने के बाद पूरे हरियाणा में भड़की हिंसा में कई लोगों की मौत हो गई थी. हनीप्रीत की तलाश के बीच उसकी एक चिट्ठी भी सामने आई है. हनीप्रीत ने इसमें एक संदेश लिखने के बाद नीचे हस्‍ताक्षर भी किए हैं. इस चिट्ठी में लिखा है, मैं हनीप्रीत इंसा पुत्री गुरमीत राम रहीम इंसा सही सलामत हूं और फतेहाबाद के कॉन्‍सटेबल विकास 3/783 के साथ जा रही हूं. इस चिट्ठी के निचले हिस्‍से में कॉन्‍टेबल विकास ने लिखा है हम बाबा राम रहीम जी की पुत्री हनीप्रीत इंसा को अपने साथ तारीख 25/08/2017 को सही सलामत अपनी जिम्मेदारी और हनीप्रीत की मर्जी से लेकर जा रहे हैं. उन्हें उनके घर पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारी है. इन चिट्ठियों के सामने आने से यह साफ हो रहा है कि हनीप्रीत ने 25 अगस्त यानी गुरमीत राम रहीम के दोषी करार दिए जाने वाले दिन ही गायब होने का प्लान बना लिया था. वह  चिट्ठी में लिखकर गई कि वो घर जा रही है. लेकिन अब वह कहां है इस बारे में पुलिस को कोई जानकारी नहीं है. यह चिट्ठी हनीप्रीत की तरफ से जेल छोड़ने से पहले जेल प्रशासन को लिखी गई थी. साभार : जी न्यूज़

LEAVE A REPLY