जयपुर (हैलो बीकानेर न्यूज़)। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज अपने मंत्रीमंडल का विस्तार करते हुवे आज 23 विधायकों को मंत्री पद की सपथ दिलाई। आएये जानते है मुख्यमंत्री और मंत्रीपरिषद के सदस्यों का जीवन परिचय….
अशोक गहलोत का जीवन परिचय :- 3 मई, 1951 को महामंदिर, जोधपुर में स्वर्गीय लक्ष्मणसिंह गहलोत के यहां जन्मे  अशोक गहलोत छात्र जीवन से ही सक्रिय राजनीति में है। विधि और विज्ञान के स्नातक,  गहलोत ने अर्थशास्त्र विषय में स्नातकोत्तर तक शिक्षा प्राप्त की। गहलोत पहली बार 1980 में लोकसभा के सदस्य बने। वे पांचवीं बार 1998 में लोकसभा के सदस्य चुने गये। उन्होंने सातवीं, आठवीं दसवीं और ग्यारहवीं लोकसभा में भी जोधपुर क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। वे तीन बार राजस्थान प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष रहे। केन्द्र सरकार में आपने पांच बार मंत्री पद सम्भाला। उन्हें 1982 में पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री उपमंत्री, 1984 में खेल उपमंत्री, 1984 में ही पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री और 1991 में कपड़ा (स्वतंत्र प्रभार) राज्यमंत्री का दायित्व सौंपा गया। वे वर्ष 1989 में राजस्थान के गृह और जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री रहे।
गहलोत ने चीन, साइप्रस, बुल्गारिया तथा संयुक्त राष्ट्र में भारतीय दल के सदस्य के रूप में अमेरिका की यात्रा की। जादू एवं देशाटन के शौकीन गहलोत ने इसके अलावा बैंकॉक, आयरलैण्ड, जर्मनी, कनाडा हांगकांग, इटली, दुबई और फ्रांस आदि देशों की यात्राएं भी की है।  गहलोत 1974 से 1979 तक राष्ट्रीय छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके है। गहलोत वर्ष 2004 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय महामंत्री बनाये गये।
ग्यारहवीं विधानसभा के लिए गहलोत फरवरी, 1999 में उपचुनाव में सरदारपुरा विधानसभा क्षेत्र (जोधपुर) से निर्वाचित हुए। बारहवीं एवं तेरहवीं विधानसभा के लिए आप सरदारपुरा विधानसभा क्षेत्र से लगातार निर्वाचित हुए है। गहलोत 30 नवम्बर, 1998 को सर्वसम्मति से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गये। गहलोत 1 दिसम्बर, 1998 से 7 दिसम्बर, 2003 तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे। गहलोत को 11 दिसम्बर, 2008 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस विधायक दल द्वारा सर्वसम्मति से कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना गया। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए सरदारपुरा (जोधपुर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
सचिन पायलट का जीवन परिचय :- सचिन पायलट का जन्म 7 सितम्बर, 1977 को उत्तरप्रदेश के सहारनपुर शहर में हुआ। उनके पिता का नाम स्व. राजेश पायलट और माता का नाम रमा पायलट है। आपकी प्रारंभिग शिक्षा नई दिल्ली के एयर फोर्स बाल भारती स्कूल में हुई। आपने बी.ए. ऑनर्स की डिग्री दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस महाविद्यालय से हासिल की। इसके बाद एम.बी.ए. की डिग्री अमेरिका स्थित पेंसिल्वेलिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से प्राप्त की। श्री पायलट का विवाह सारा अब्दुल्लाह से सन् 2004 में हुआ। आपके दो पुत्र आरान और वेहान हैं।
विदेश से शिक्षा प्राप्त कर लौटने के पश्चात्  सचिन पायलट 10 फरवरी 2002 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए। आप 13 मई 2004 को चौदहवीं लोक सभा के लिए दौसा सीट से चुने गए। 26 साल की उम्र में वे भारतीय सांसद बनने वाले सबसे युवा व्यक्ति थे। 28 अक्टूबर 2012 से 17 मई तक आप केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री, भारत सरकार रहे। आप केंद्र सरकार के गृह विभाग के स्टैडिंग कमेटी के सदस्य भी रहे। पंद्रहवीं लोक सभा में अजमेर क्षेत्र से सांसद भी रहे हैं। वर्तमान में आप पायलेट पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए टोंक निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
बुलाकी दास कल्ला का जीवन परिचय :- बुलाकी दास कल्ला का जन्म 4 अक्टूबर 1949 को बीकानेर में गिरधारी लाल कल्ला के घर हुआ। कल्ला ने बी.एस.सी., एम.ए. (अर्थशास्त्र) एल.एल.बी., एवं पी.एच.डी. की डिग्रियां प्राप्त की है।कल्ला का विवाह 10 फरवरी 1971 को शिवकुमारी कल्ला के साथ हुआ। आपके दो पुत्र एवं दो पुत्रियां हैं। कल्ला 1980 में पहली बार राजस्थान विधानसभा में बीकानेर शहर से विधायक के रूप में चुने गये। आपने वर्ष 1985, 1990, 1998 एवं 2003 में लगातार चार बार राजस्थान विधानसभा में बीकानेर शहर का प्रतिनिधित्व किया।
आप वर्ष 1990 ओर 2003 में राजस्थान के माध्यमिक शिक्षा मंत्री रहे। जनवरी 2004 से जनवरी 2006 तक विधानसभा में विपक्षी पार्टी के नेता भी रहे। कल्ला अप्रेल 2011 को गठित चतुर्थ राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष रह चुके हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए बीकानेर पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
शांति कुमार धारीवाल का जीवन परिचय :- शांति कुमार धारीवाल का जन्म 29 अक्टूबर, 1943 को कोटा में हुआ। आपके पिता खबचन्द धारीवाल एवं माता फूलकुमारी धारीवाल है। आपका विवाह 11 जून, 1966 को कोमल धारीवाल के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व एक पुत्री हैं। आपने राजकीय महाविद्यालय कोटा से बी.ए. व एल.एल.बी तक शिक्षा अर्जित की।
व्यवसाय से वकील धारीवाल वर्ष 1984-89 में आठवीं लोकसभा के सदस्य रहे हैं। आप दसवीं तथा ग्यारहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य रहे हैं। श्री धारीवाल 5 दिसम्बर, 1998 को स्वायत्त शासन, नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री, 14 मई 2002 को पंचायतीराज तथा 25 जनवरी, 2003 को पर्यटन, कला एवं संस्कृति मंत्री बने।
सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध सतत् संघर्षरत  धारीवाल की दलित एवं पिछड़े वर्ग के उत्थान नशाबंदी एवं कल्याण कायोर्ं में सक्रिय भूमिका रही है। आपकी संगीत, कविता एवं शायरी में विशेष अभिरूचि है।धारीवाल ने सोवियत रूस, इंग्लैण्ड, अमेरिका, हॉलैण्ड, चेकोस्लोवाकिया, बैंकॉक व नेपाल आदि देशों की यात्राएं की है। धारीवाल तेरहवीं विधानसभा के लिए कोटा (उत्तर) विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए कोटा (उत्तर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
परसादी लाल मीणा का जीवन परिचय:- परसादी लाल मीणा का जन्म 01 फरवरी, 1951 को दौसा जिले की लालसोट तहसील के ग्राम मण्डावरी में हुआ। आपके पिता  देवीलाल मीणा एवं माता श्रीमती झूमा देवी है। आपका विवाह 4 मई, 1965 को श्रीमती मिश्री देवी के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व दो पुत्रियां हैं। आपने स्नातक तक शिक्षा प्राप्त की है। आप आठवीं, नौवीं, दसवीं एवं ग्यारहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य रहे हैं।
आपको दिसम्बर, 1998 को राज्य लॉटरी एवं अल्प बचत विभाग एवं राज्य बीमा विभाग (स्वतंत्र प्रभार) तथा सहकारिता विभाग, सहायता एवं पुनर्वास विभाग का दायित्व सौंपा गया। मीणा को 13 मई, 2002 को केबीनेट मंत्री के रूप में सहकारिता विभाग का प्रभारी बनाया गया था। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए लालसोट (दौसा) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
मास्टर भंवर लाल मेघवाल का जीवन परिचय :- भंवर लाल मेघवाल का जन्म 2 जुलाई, 1948 को चुरू जिले के ग्राम बाघसरा पूर्वी तहसील सुजानगढ़ में हुआ। आपके पिता स्व.  चूनाराम मेघवाल एवं माता का नाम स्व. रूकमणी देवी है। आपका विवाह 15 मई, 1965 को  केशर देवी के साथ हुआ है। आपके एक पुत्र व दो पुत्रियां हैं। आपने राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर से इतिहास में एम.ए. की उपाधि प्राप्त की है।  कृषि, नमक उत्पादन एवं विक्रय व्यवसाय से सम्बद्ध रहे  मेघवाल सातवीं, नवीं, ग्यारहवीं और तेरहवीं विधानसभा के लिए सुजानगढ़ (चूरू) सुरक्षित क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुए।
मेघवाल 5 दिसम्बर, 1998 को गहलोत सरकार में युवा एवं खेलकूद, कारागार (स्वतंत्र प्रभार), ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज, विशिष्ट योजना संगठन एवं एकीकृत ग्रामीण विकास विभाग के राज्यमंत्री तथा 25 जनवरी, 2003 को इन्दिरा गांधी नहर परियोजना, सिंचित क्षेत्र विकास (स्वतंत्र प्रभार) एवं पंचायतीराज विभाग का दायित्व सौंपा गया।  मेघवाल की लेखन, खेती बागवानी के साथ-साथ फुटबॉल, हॉकी एवं दौड़ में विशेष अभिरूचि रही है। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए सुजानगढ़ (चूरू) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
लाल चंद कटारिया का जीवन परिचय:-  लाल चंद कटारिया का जन्म 12 जून, 1968 को जयपुर जिले के गांव बिसनावाला में स्व. राम प्रताप कटारिया के घर में हुआ। श्री कटारिया की धर्मपत्नी का नाम श्रीमती गायत्री कटारिया है। आपकी दो पुत्रियां  हैं। आपने इन्टर मीडिएट तक की शिक्षा प्राप्त की है। कटारिया राजस्थान विधानसभा के सदस्य रह चुके हैं। इस दौरान आप अन्य पिछड़ा वर्ग समिति के राजस्थान विधानसभा के सदस्य भी रह चुके हैं। वर्ष 2009 में लोकसभा सांसद बने। आप भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय में मंत्री रहे। आप रक्षा राज्य मंत्री भी रहे।
ग्रामीण क्षेत्रों में मेडीकल कैम्प लगाने एवं गरीब बच्चों की शिक्षा के लिए आप सदैव सक्रिय रहते हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए झोटवाड़ा (जयपुर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
डॉ. रघु शर्मा का जीवन परिचय :- डॉ. रघु शर्मा का जन्म 26 जुलाई, 1958 को ग्राम सावर, तहसील केकड़ी, जिला अजमेर में हुआ। आपके पिता स्व. शिवस्वरूप शर्मा एवं माता कान्ता देवी हैं। आपका विवाह 9 नवम्बर, 1989 को  वीरा शर्मा के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व एक पुत्री हैं। आपने बी.एस.सी, एल.एल.बी., एम.बी.ए. व मैनेजमेन्ट में राजस्थान विश्वविद्यालय से पी.एच.डी. की डिग्री प्राप्त की है।  आप तेरहवीं राजस्थान विधानसभा क्षेत्र से सदस्य निर्वाचित रहे हैं।
एक फरवरी 2018 को उप चुनाव में सोलहवीं लोकसभा के लिए अजमेर लोकसभा क्षेत्र से सांसद निर्वाचित हुए । वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए केकड़ी (अजमेर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
प्रमोद जैन भाया का जीवन परिचय :-  प्रमोद जैन ‘भाया’ का जन्म 8 दिसम्बर, 1965 को बारां में हुआ। आपके पिता स्व. उम्मेदमल जैन एवं माता स्व.  धनकंवर बाई हैं। आपका विवाह 01 मार्च, 1987 को श्रीमती उर्मिला जैन के साथ हुआ। आपके एक पुत्र दो पुत्रियां हैं। आपने राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर से बी.कॉम. तक शिक्षा प्राप्त की।
कृषि एवं व्यापार से जुड़े जैन बारहवीं राजस्थान विधानसभा के लिए बारां जिले के बारां विधानसभा क्षेत्र से पहली बार निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में निर्वाचित हुए तथा 2008 में तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के लिए आप पुनः इसी क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप मंर निर्वाचित हुए। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए अंता (बारां) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
विश्वेन्द्र सिंह का जीवन परिचय :- विश्वेन्द्र सिंह का जन्म 23 जून, 1962 को भरतपुर में हुआ। आपके पिता महाराजा ब्रजेन्द्र सिंह एवं माता महारानी विदेह कौर हैं। आपका विवाह 15 फरवरी, 1989 को  दिव्या सिंह के साथ हुआ। आपके एक पुत्र है।
आपने सेन्ट्रल स्कूल, भरतपुर से मैट्रिक तक शिक्षा प्राप्त की है। आप नौवीं, तेरहवीं एवं चौदहवीं लोकसभा में सांसद भी रहे।  आप दसवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं। आपने इंग्लैण्ड, स्वीडन, नार्वे, स्पेन व जापान आदि देशों की यात्राएं भी की है। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए डीग-कुम्हेर (भरतपुर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
हरीश चौधरी का जीवन परिचय:-  हरीश चौधरी का जन्म 13 मई, 1970 को बाड़मेर में हुआ। आपके पिता  मूल सिंह चौधरी एवं माता मीरा चौधरी है। आपका विवाह 26 नवम्बर, 1995 को श्रीमती हेमानी चौधरी के साथ हुआ। आपके एक पुत्र एवं एक पुत्री हैं। बी.एस.सी., एम.ए. शिक्षा प्राप्त श्री चौधरी बेसबॉल के नेशनल लेवल प्लेयर रहे हैं। चौधरी 2009 में बाडमेर से लोकसभा सदस्य निर्वाचित हुए। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए बायतु (बाड़मेर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
रमेश चन्द मीणा का जीवन परिचय:-  रमेश चन्द मीणा का जन्म 15 जनवरी, 1963 को ग्राम नयागांव, तहसील मंडरायल, जिला करौली में हुआ। आपके पिता श्री शंकर लाल मीणा एवं माता  केसर देवी मीणा है। आपका विवाह 09 जुलाई, 1995 को कमलेश मीणा के साथ हुआ। आपने कोटा महाविद्यलाय से बी.ई. (सिविल), अभियांत्रिकी तक शिक्षा प्राप्त की। आप तेरहवीं एवं चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं।  वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए सपोटरा (करौली) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
उदयलाल आंजनाका जीवन परिचय :- उदयलाल आंजना का जन्म 05 मई, 1951 को ग्राम केसुन्दा, छोटी सादड़ीा, जिला चित्तौड़गढ़ में हुआ। आपके पिता श्री भैरूलाल आंजना एवं माता गोपी बाई है। आपका विवाह अप्रेल 1969 में सज्जन बाई के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व तीन पुत्रियां हैं।  आपने विक्रम यूनिवर्सिटी, उज्जैन (म.प्र.) से बी.कॉम (द्वितीय वर्ष) तक शिक्षा प्राप्त की।आप दसवीं एवं तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे। आप बारहवीं लोकसभा में चित्तौड़गढ़ में सांसद भी रहे। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए निम्बाहेड़ा (चित्तौडगढ़) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
प्रताप सिंह खाचरियावास :- प्रताप सिंह खाचरियावास का जन्म 16 मई, 1969 को जोधपुर में हुआ। आपके पिता लक्ष्मण सिंह शेखावत एवं माता श्रीमती हिम्मत कंवर है। आपका विवाह 28 फरवरी, 2000 को  नीरज कंवर के साथ हुआ। आपके दो पुत्र हैं। आपने राजनीति शास्त्र में एम.ए. और एल.एल.बी. की शिक्षा प्राप्त की है।  आपने अपने राजनैतिक करियर की शुरूआत राजस्थान विश्वविद्यालय के अध्यक्ष पद से की है। आप 2008 में तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए सिविल लाइन्स (जयपुर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
शाले मोहम्मद का जीवन परिचय:-  शाले मोहम्मद का जन्म 01 फरवरी, 1977 को भागु का गांव, जिला जैसलमेर में हुआ। आपके पिता  गाजी फकीर एवं श्रीमती जन्नत है। आपका विवाह 16 अप्रैल, 1997 को श्रीमती हकीमा के साथ हुआ। आपके एक पुत्री है। आपने सैकण्डरी तक शिक्षा प्राप्त की है। आप तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए पोकरण (जैसलमेर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
गोविन्द सिंह डोटासरा का जीवन परिचय :-  गोविन्द सिंह डोटासरा का जन्म 1 अक्टूबर, 1964 को गांव (कृपा राम जी की ढ़ाणी) सुतोद में हुआ। आपके पिता  मोहन सिंह डोटासरा एवं माता  रूपीदेवी है। आपका विवाह विवाह 4 मार्च, 1984 को सुनीता डोटासरा से हुआ। आपके दो पुत्र हैं। आपने बी.कॉम., बी.एड, और एल.एल.बी. की डिग्री प्राप्त की। आपके राजनैतिक जीवन की शुरूआत 2005 में पंचायत चुनाव में प्रधान बनने से हुई। आपने 2008 एवं 2013 में राजस्थान विधानसभा में सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। डोटासरा ने 6 मार्च, 2018 को राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष श्री कैलाश मेघवाल से वर्ष 2016 के बेस्ट एम.एल.ए. का अवार्ड प्राप्त किया। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए लक्ष्मणगढ़ (सीकर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
ममता भूपेश का जीवन परिचय:-  ममता भूपेश का जन्म 28 जून, 1973 को ग्राम इस्लापुर, तहसील झुंझुनूं में हुआ। आपके पिता अमीचन्द भूपेश एवं माता श्रीमती सरस्वती भूपेश है। आपका विवाह 12 दिसम्बर, 1994 को डॉ. घनश्याम बैरवा के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व एक पुत्री हैं। आपने महारानी कॉलेज जयपुर से बी.ए. एवं विनायका मिशन विश्वविद्यालय सलेम, तमिलनाडु से 2014 में एम.बी.ए. की डिग्री प्राप्त की। आप 2008 में तेरहवीं राजस्थान विधानसभा की सदस्य, 2009 में सामान्य प्रयोजनों सम्बन्धी समिति एवं 2009-2010 में राजकीय उपक्रम समिति की सदस्य भी रही हैं।
आपने वर्ष 2001 में विदेश यात्रा के रूप में यू.एन.ओ. द्वारा नस्लवाद व जातिवाद के खिलाफ अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी में दक्षिण अफ्रीका-डरबन में भाग लिया। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए सिकराय (दौसा) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
अर्जुन सिंह बामनिया का जीवन परिचय :- अर्जुन सिंह बामनिया का जन्म 05 सितम्बर, 1963 को ग्राम मलवासा, जिला बांसवाड़ा में हुआ। आपके पिता पूंजाजी बामनिया एवं माता सतुरी देवी है। आपका विवाह 12 मई, 1983 को  सुरता देवी के साथ हुआ। आपके तीन पुत्र व एक पुत्री है। आपने राजकीय महाविद्यालय बांसवाड़ा से बी.ए. (द्वितीय वर्ष) तक शिक्षा प्राप्त की। आप बारहवीं एवं तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए बांसवाड़ा निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
भंवर सिंह भाटी का जीवन परिचय :- भंवर सिंह का जन्म 01 जनवरी, 1974 को हदां, तहसील कोलायत, जिला बीकानेर में हुआ। आपके पिता रूपनाथ सिंह भाटी एवं माता  शायर कंवर हैं। आपका विवाह 15 अप्रैल, 2000 को  राजेश कंवर के साथ हुआ। आपके एक पुत्र व एक पुत्री है। आपने सीनीयर सैकण्डरी तक शिक्षा प्राप्त की है।
आप चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए कोलायत (बीकानेर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
सुखराम विश्नोई का जीवन परिचय:-  सुखराम विश्नोई का जन्म 03 मई, 1953 को ग्राम केरिया, तहसील सांचोर, जिला जालोर में हुआ। आपके पिता कोजाराम एवं माता  जीया देवी है। आपका विवाह 04 जून, 1973 को श्रीमती मीरा के साथ हुआ। आपके दो पुत्र एक पुत्री है। आपने जयनारायण व्यास विश्वविद्यलाय, जोधपुर से बी.ए., एल.एल.बी. की उपाधि प्राप्त की।
अशोक चांदना का जीवन परिचय:- अशोक चांदना का जन्म 13 अक्टूबर, 1984 को जिला बूंदी में हुआ। आपके पिता  देवीलाल चांदना एवं माता सोहनी बाई है। आपका विवाह 15 फरवरी, 2012 को डॉ. ललिता चांदना के साथ हुआ। आपके एक पुत्री है।
आपने पुणे विश्वविद्यलाय, पुणे से बी.कॉम. तक शिक्षा प्राप्त की। आपने चीन, दुबई, ईटली, स्पेन, हॉलैण्ड, आस्टि्रया एवं सिंगापुर की विदेश यात्राएं भी की है। आप चौदहवीं विधानसभा के भी सदस्य निर्वाचित रहे। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए हिण्डोली (बूंदी) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
टीकाराम जूली का जीवन परिचय :-  टीकाराम जूली का जन्म 03 सितम्बर, 1980 को ग्राम काठूवास, तहसील बहरोड, जिला अलवर में हुआ। आपके पिता लेखराम ठेकेदार एवं माता  चलती देवी है। आपका विवाह 13 मार्च, 1999 को गीता देवी के साथ हुआ। आपके दो पुित्रयां हैं। आपने अहीर कॉलेज, रेवाड़ी (हरियाणा) से बी.ए. (कला) तक शिक्षा प्राप्त की। आप तेरहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए अलवर ग्रा. निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
भजनलाल जाटव का जीवन परिचय:-  भजनलाल जाटव का जन्म ग्राम झालाटाला, वैर जिला भरतपुर में हुआ। आपके पिता गुलकन्दी लाल एवं माता मुक्ति है। आपका विवाह सरूपी देवी के साथ हुआ। आपके दो पुतर्् व तीन पुतिर््यां हैं। आपने सैकण्डरी तक शिक्षा प्राप्त की है। आप चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य निर्वाचित रहे हैं।
आप  2014-15 व 2017-18 तक अनुसूचित जाति कल्याण समिति के सदस्य भी रहे हैं। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए वैर (भरतपुर) निर्वाचन क्षेतर्् से निर्वाचित हुए हैं।
राजेन्द्र सिंह यादव का जीवन परिचय:- राजेन्द्र सिंह यादव का जन्म 13 नवम्बर, 1959 को ग्राम किच्छा, नैनीताल, उत्तराखण्ड में हुआ। आपके पिता रामजीलाल यादव एवं माता स्व. सरदार कौर हैं। आपका विवाह 22 फरवरी, 1981 को  कमलेश यादव के साथ हुआ। आपके दो पुत्र है। आपने कुमाऊं विश्वविद्यालय, उत्तराखण्ड से बी.ए. की शिक्षा प्राप्त की है।
वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए कोटपूतली (जयपुर) निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।
सुभाष गर्ग का जीवन परिचय :- सुभाष गर्ग का जन्म 15 अगस्त, 1959 को जिला भरतपुर में हुआ। आपके पिता श्री प्रभुदयाल गर्ग है। आपका विवाह श्रीमती मंजू गर्ग के साथ हुआ।  आपने राजस्थान विश्वविद्यलाय, जयपुर से एम.कॉम., एम.फिल., पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त की। वर्तमान में आप पन्द्रहवीं विधानसभा के लिए (राष्ट्रीय लोक दल) से भरतपुर निर्वाचन क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं।