बीकानेर।  कोटगेट थाना पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो एक फोन कॉल से आपके खाते से पैसे निकाल लेते थे। इस गिरोह के 6 लोगों को दिल्ली से गिरफ्तार कर बीकानेर लाया गया है। फिलहाल पुलिस कार्यवाही में जुटी हुई है।  धरम पूनिया से मिली जानकारी के अनुसार 8 अगस्त को गिरीश कुमार अग्रवाल ने कोटगेट थाने में मुकदमा दर्ज करवाते हुए बताया था कि उनके पास एक कॉल आया और उसके बाद उनके बैंक अकाउंट से पैसे गायब हो गए। मामला दर्ज करते हुए जांच एसआई कन्हैयालाल व एसआई नवनीत को देते हुए टीम का गठन किया गया। मामले में अनुसंधान करते हुए रविवार को एसआई कन्हैयालाल व एसआई नवनीत टीम के साथ दिल्ली पहुंचे और वहां आरोपियों को ट्रेस आउट करते हुए एयरपोर्ट पर दबोच लिया।

बताया जा रहा है कि आरोपी हर लोकेशन पर दस दिन रहते हैं तथा वहां पर मोबाईल कॉल सेंटर चलाते हैं। ये लोग एक कॉल करते हैं तथा आपसे सामान्य जानकारी हासिल कर आपके नंबर पर एक लिंक भेजते हैं। जैसे ही आप लिंक एक्सेप्ट करते हो आपके बैंक अकाउंट से पैसा सीधे आरोपियों के फर्जी अकाउंट में चला जाता है। पूनिया ने बताया कि आरोपी गोवा जा रहे थे, वहां भी ये दस दिन रहते और इस तरह की वारदातें करते। इससे पहले ये मुंबई, चंडीगढ़ थे। बताया जा रहा है कि इस गिरोह का सरगना मोहम्मद रजा है जो नए नए लड़कों की भर्ती लेता है।

पुलिस ने मोहम्मद रजा सहित प्रिंस चौहान, शमीर, मोहम्मद आलम, मोहम्मद मौजीज व धीरज सोनी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपियों के पास 8 मोबाईल, एक लैपटॉप व 22 फर्जी बैंक खातों की डिटेल मिली है। पुलसि आरोपियों से पूछताछ कर रही है तथा अब कोटगेट थाना क्षेत्र में तीन वारदातें कबूल चुके हैं। वहीं अलग-अलग जगहों पर कई वारदातें करने की बात सामने आ रही है।