left

नई दिल्ली। रिलायंस जियो का प्राइम मेंबरशिप आगामी 31 मार्च तक वैध रहेगा। उल्लेखनीय है कि जियो प्राइम मेंबरशिप के तहत ग्राहक 99 रुपए खर्च कर इसे हासिल कर सकता है। साथ ही उसे इसे 309 रुपए या इससे अधिक से इसे रिचार्ज करवाना पड़ेगा।
जियो ने देश के होड़युक्त बाजार में 2016 के दौरान प्रवेश किया था। इसके साथ ही टेलीकॉम बाजार में इसने भूचाल ला दिया। शुरू में तो इसने मुफ्त सेवा देना शुरू कर दिया था। इसके चलते अन्य कंपनियों के हालात खस्ता हो गए। यहां तक कि रिलायंस टेलीकम्यूनिकेशन के खिलाफ ये कंपनियां कोर्ट जाने लगीं।  

प्राइम मेंबरशिप को शुरुआत में जियो ने अपने सब्सक्राइबर्स को टिकाए रखने के लिए एक लॉयल्टी प्रोग्राम के तौर पर उस समय जारी किया था जब कंपनी ने अपनी सेवाओं के लिए पैसे वसूलने शुरू किए थे। शुरुआती दिनों में प्राइम मेंबरशिप को कंपनी ने एक लिमिटेड पीरियड ऑफर बताया था। हालांकि, कुछ दिनों के बाद कंपनी ने ज़्यादा से ज़्यादा ग्राहकों को बनाने के लिए मेंबरशिप को बरक़रार रखा। अब, जियो की आधिकारिक वेबसाइट पर नॉन-प्राइम सब्सक्राइबर्स के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

जानें प्राइम मेंबरशिप में कंपनी क्या कुछ ऑफर करती है:

  • 10 रुपये की प्रभावी कीमत में प्रतिदिन एक साल तक मुफ्त अनलिमिटेड डेटा और वॉइस सर्विसेज
  • अतिरिक्त डेटा और वैधता के साथ स्पेशल रीचार्ज
  • किसी भी नेटवर्क पर मुफ्त VoLTE वॉइस कॉल्स (रोमिंग पर भी)
  • जियो ऐप्स के लिए मुफ्त एक्सेस

रिलायंस जियो ने अपने यूजर्स को शानदार म्यूजिक एक्सपेरियंस देने के लिए मशहूर म्यूजिक ऐप सावन के साथ पार्टिनरशिप का ऐलान किया है। इस पार्टनरशिप के बाद बनी नई कंपनी का नाम जियो-सावन होगा और कंपनी की वैल्यू 100 करोड़ डॉलर से ज्यादा होगी।

 बता दें कि जियो के पास खुद की म्यूजिक ऐप जियो म्यूजिक है जिसकी मार्केट वैल्यू 67 करोड़ डॉलर है। इस पार्टनरशिप के तहत जियो नई कंपनी यानी जियो-सावन में 10 करोड़ डॉलर का एक्स्ट्रा निवेश करेगी।साथ ही जियो सावन के मौजूदा शेयरधारकों से उनकी हिस्सेदारी खरीद रही है। सावन के शेयरधारकों में टायगर ग्लोबल मैनेजमेंट, लिबर्टी मीडिया और बर्टल्समैन जैसे शेयरधारकों के नाम शामिल हैं। बता दें कि सावन के तीनों फाउंडर ऋषि मल्होत्रा, परमदीप सिंह विनोद भट अपने पद पर बने रहेंगे।