जयपुर।  राजस्थान की राजधानी जयपुर के रामगंज थाना क्षेत्र में मामूली विवाद के कारण चाराें थाना क्षेत्रों में लगाया गया कफर्यू जारी है अौर इस दौरान स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बनी हुयी है।
राजधानी के रामगंज, माणक चौक , गलता गेट और सुभाष चौक में भारी पुलिस जाप्ता तेनात है और क्षेत्र में लगाये गये कर्फ्यू के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
पुलिस उपायुक्त नार्थ सत्येन्द्र सिंह ने बताया कि क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था बनाये रखने के लिये ड्रोन से निगरानी की जा रही है और इस दौरान कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्र के अनेक घरों की छतों पर पत्थर और इंटे रखी हुयी मिली है। पुलिस प्रशासन द्वारा मुस्तैदी से गश्त की जा रही है हालांकि कल रात हुयी आगजनी, तोडफोड़ और पथराव के बाद आज अभी तक किसी भी तरह की अप्रिय घटना की कोई ताजा घटना नहीं हुयी है।
उन्होंने बताया कि पुलिस़ प्रशासनिक और क्षेत्र के शांति समिति के सदस्यों के साथ बातचीत की गयी और स्थिति को सामान्य करने के लिये सभी से सहयोग की अपील की गयी । इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी , महापौर अशोक लाहौटी , विधायक मोहनलाल गुप्ता सहित क्षेत्र के नागरिकों ने शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये सहयोग की अपील की गयी।
इसी बीच कल रात हुयी हिंसा और फायरिंग में मृत युवक आसीफ का शव स्थानीय सवाई मानसिंह अस्पताल में रखा हुआ है जिसका अभी तक पोस्टमार्टम नहीं किया गया है। बताया जाता है कि मृतक के परिजनों के अस्पताल नहीं पहुंचने के कारण पोस्टमार्टम को लेकर स्थिति असमंजस में बनी हुयी है। 

LEAVE A REPLY