बीकानेर। पीबीएम ट्रोमा सेंटर में प्रभारी डॉ बी एल खजोटीया के नेतृत्व में बीकानेर के एक ही परिवार के तीन बच्चों की हाथों की उंगलियों की विकृति का सफल ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन के बाद बच्चे स्वस्थ और उनका परिवार हर्षित है ।

डॉ खजोटीया ने बताया कि  बीकानेर के शीतला गेट क्षेत्र के अब्दुल रज्जाक की पुत्री खुशनुमा (15 वर्ष) हफ़सा (13 वर्ष) रउफ (10 वर्ष) के दोनों हाथों में पांच के बजाय 6 उंगलियां थी, जिनसे उन्हें सामान्य काम काज में कठिनाई हो रही थी । डॉ0 खजोटीया ने बताया कि एक परिवार के तीनों बच्चो को जीन में खराबी के कारण अनियंत्रित रूप से हड्डियों के विकास के कारण दोनों हाथों में एक एक उंगली अतिरिक्त थी ।
डॉ खजोटीया ने बताता कि तीनों बच्चों की शल्य चिकित्सा में पूर्ण बेहोशी के साथ हाथों की अतिरिक्त एक एक उंगली उनसे जुड़ी नसों को बचाते हुए सावधानीपूर्वक ऑपरेशन किया गया । ऑपरेशन के बाद बच्चे पूर्णतया स्वस्थ और सामान्य हो गए । बच्चो के पिता अब्दुल रज्जाक ने बताया कि इन बच्चों को इससे पूर्व कई अस्पतालों में दिखाया गया जहां इस ऑपरेशन में बड़ा खतरा बताया गया था । उन्होंने कहा कि इस ऑपरेशन से अब उनके बच्चे सामान्य जीवन का आनंद उठा सकेंगे । ऑपरेशन टीम में रेजिडेंट डॉ0 संजय तंवर, डॉ0 रामस्वरूप ज्याणी शामिल थे ।