अब 2500 रुपये में हवाई सफर: पढ़े पूरी न्यूज़

0



देश के लाखों लोगों का हवाई सफर का सपना अब हकीकत बनेगा। देश के छोटे शहरों को जोड़ने वाली उड़ान योजान शुरु हो गई है। अब 500 किलोमीटर और 1 घंटे के सफर के लिए अधिकतम किराया 2500 रुपये होगा। उड़ान योजना के कारण अब छोटे शहर हवाई मार्ग से जुड़ेंगे। साथ ही 2019 तक 127 एयरपोर्ट ऑपरेशनल होंगे। सरकार ने इस योजना के तहत साल 2022 तक सालाना 30 करोड़ टिकट बिक्री का लक्ष्य निर्धारित किया है। साथ ही इस योजना से एविएशन में भारत दुनिया में तीसरे नंबर पर पहुंचेगा। उड़ान स्कीम की शुरुआत अक्टूबर 2016 में हुई थी जिसके बाद सरकार ने ये उड़ान शिमला से दिल्ली के बीच उड़ी। कल से दिल्ली से शिमला, कड़पा से हैदराबाद और नांदेड़ से हैदराबाद के बीच उड़ाई जाएंगी। सरकार की उड़ना योजाना में 500 किलो मीटर दूरी और 1 घंटे से कम की उड़ान के लिए 2500 रुपये का किराय तय किया गया है। इस योजना में देश के छोटे शहरों को हवाई मार्ग से जोड़ा जाएगा।

दरअसल, सरकार उड़ान स्कीम के तहत छोटे शहरों को हवाई सफर से जोड़ना चाहती है। मौजूदा समय में 394 एयरपोर्ट पर कोई सर्विस नहीं है और 16 एयरपोर्ट पर बहुत ही कम फ्लाइट है। जिसके चलते सरकार ने रीजनल एयर कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए उड़ान स्कीम की शुरुआत की है।

उड़ान योजना के तहत बठिंडा, शिमला, आगरा, बीकानेर, ग्वालियर, कड़पा, लुधियाना, नांदेड़, पठानकोट, विद्यानगर, दुर्गापुर, बर्नपुर, कूच बिहार, जमशेदपुर, राउरकेला, भावनगर, दीव, जामनगर, कांडला, आदमपुर, कानपुर, कुल्लू, द्वारका, मुंद्रा, पंतनगर, पुडुचेरी, पोरबंदर, शिलॉन्ग, अंबिकापुर, बिलासपुर, जगदलपुर, जैसलमेर, जलगांव, जेयपुर(उड़ीसा), झारसुगोड़ा, कोल्हापुर, मैसूर, न्येवेली, नासिक और रायगढ़ शहरों को शामिल किया है।

उड़ान स्कीम की –

  • उड़ान स्कीम के तहत हवाई यात्रा के लिए 500 किलोमीटर या 1 घंटे के सफर की कीमत ज्यादा से ज्यादा 2,500 रुपया रखी गई है। इसी आधार पर अन्य रुटों का भी किराया निर्धारित किया गया है।
  • उड़ान स्कीम के तहत 128 रूट्स और 5 ऑपरेटरों को उड़ान स्कीम में शामिल किया है। एयर इंडिया की क्षेत्रीय इकाई अलायंस एयर के तहत इन फ्लाइट्स को ऑपरेट किया जाएगा।
  • उड़ान स्कीम के तहत 45 ऐसे एयरपोर्ट्स जो सेवा में नहीं हैं, उन्हें एयर नेटवर्क में कनेक्ट किया गया है.
  • छोटे शहर टियर-2 और टियर-3 के 13 एयरपोर्ट्स, जहां ज्यादा फ्लाइट्स नहीं चलती थीं वहां अब अधिक फ्लाइट्स होंगी. इन शहरों के लोगों को उड़ान स्कीम का फायदा मिल सकें.
  • उड़ान के तहत 5 ऑपरेटर्स का चयन हुआ है जो एयर इंडिया की सब्सिडियरी अलाइड सर्विसेज, स्पाइसजेट, एयर डेक्कन, एयर ओडिशा, टर्बो मेघा हैं.
  • कानपुर से दिल्ली के लिए स्पाइसेजट की सेवा अगस्त में शुरू होगी, जबकि कानपुर से वाराणसी और दिल्ली के बीच सितम्बर में एयर ओडिशा के विमान उड़ान भरेंगे.
  • अलायंस एय़र आगरा से जयपुर की उड़ान जून में शुरू करेगी, जबकि अगस्त में एय़र डेक्कन ने आगरा और दिल्ली के बीच उड़ान सेवा शुरु करने की तैयारी कर रखी है.
  • दिल्ली से शिमला के बीच अलायंस एय़र और एयर डेक्कन, दोनों ने ही अगले महीने सेवा शुरु करने का लक्ष्य रखा है.
  • मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ में अंबिकापुर से विलासपुर और बिलासपुर से रायपुर के बीच सितम्बर में एय़र ओडिशा अपनी सेवा शुरू करेगी. सितम्बर में ही जगदलपुर से रायपुर और विशाखापत्तनम के बीच सेवाएं शुरू हो जाएंगी.
  • 15 जून 2016 को शुरु हुई नैशनल सिविल एविएशन पॉलिसी का उड़ान अहम हिस्सा है.