बीकानेर hellobikaner.com जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि सद्भाव और भाईचारे के कारण बीकानेर की अलग पहचान है। साम्प्रदायिक सद्भाव के चलते बीकानेर को छोटी काशी के नाम से जाना जाता है। मेहता ने कहा कि कोरोना काल में बीकानेर के लोगों की एकजुटता और सहयोग से प्रशासन को बहुत मदद मिली है। वे उम्मीद करते हैं कि आगामी त्योहारों के दौरान भी आमजन इस सौहार्द को बनाए रखते हुए कोरोना एडवाइजरी की पूरी अनुपालना करेंगे। मेहता ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में शांति समिति की बैठक में यह बात कही।

मेहता ने कहा कि लोगों की अपनी-अपनी आस्थाएं हैं प्रत्येक समुदाय को अपनी आस्था व्यक्त करने का पूरा अधिकार है, परंतु वर्तमान परिस्थितियों के मद्देनजर हमें कोरोना प्रोटोकॉल की अनुपालना करते हुए अपने त्योहारों को पूरी श्रद्धा के साथ मनाना है। उन्होंने कहा कि शांति समिति के सदस्य अपने-अपने क्षेत्रों में आम लोगों के साथ समझाइश करें और यह सुनिश्चित करें कि कोई भी सामूहिक आयोजन नहीं हो और किसी भी परिस्थिति में 50 से अधिक व्यक्ति एक स्थान पर एकत्र ना हो।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने खाली किया सरकारी बंगला

उन्होंने कहा कि यदि कोई बड़ा आयोजन होता पाया जाए तो शांति समिति के सदस्य इसकी सूचना तुरंत प्रशासन और पुलिस को दें जिससे संक्रमण फैलने की किसी भी संभावना को रोका जा सके। मेहता ने कहा कि कानून व्यवस्था संधारण के साथ-साथ वर्तमान में कोरोना संक्रमण रोकथाम में भी आम लोगों की प्राथमिक भूमिका है। जिले के विभिन्न क्षेत्रों के प्रभावशाली लोग अपने क्षेत्र के लोगों के साथ समझाइश कर उन्हें कोरोना एडवाइजरी की अनुपालना के लिए प्रेरित करें। बकरईद पर मंडी नहीं लगे।

धर्म देखकर नहीं फैलता कोरोना, अनावश्यक बाहर ना निकलें

मेहता ने कहा कि कोरोना संक्रमण धर्म देखकर नहीं फैलता इसलिए हमें अपनी आस्था का पूरा सम्मान करते हुए पुलिस और प्रशासन के साथ सहयोग करना होगा जिससे स्थिति नियंत्रण में रहे। जिला कलेक्टर ने कहा कि आगामी सप्ताह में ईद, रक्षाबंधन जैसे त्यौहार हैं। उन्होंने लोगों से घरों में रहकर नमाज पढ़ने की अपील करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति अनावश्यक रूप से घरों से ना निकले और बहुत आवश्यक होने पर ही घरों में निकले और कोरोना बचाव कें नियम अपनाएं।

दिल्ली में डीजल 8.36 रुपये प्रति लीटर हुआ सस्ता , दिल्ली सरकार ने….

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रह्लाद सिंह कृष्णिया ने कहा कि गंगा जमुनी संस्कृति बीकानेर की पहचान रही है। सहयोग यहां की परंपराओं में है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अब तक आमजन द्वारा कानून व्यवस्था को बनाए रखने में दिए गए सहयोग के प्रति पुलिस आभारी है और आम लोगों की मदद के लिए पुलिस सावधान और तत्पर है। पुलिस आगामी समय में भी समाज के प्रभावशाली लोगों से सहयोग की अपेक्षा रखती है। त्योहारों के दौरान भी लोग सरकार द्वारा जारी कोरोना एडवाइजरी की पूरी पालना करते हुए स्वयं, अपने परिवार और समाज को इस बीमारी से बचाए रखेंगे।
बैठक में नोखा में शांति समिति के प्रतिनिधि भीमराज उपाध्याय ने प्रशासन और पुलिस द्वारा कोरोना संक्रमण रोकने के लिए अब तक किए गए प्रयासों की के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि कोरोना लॉकडाउन में आमजन का पुलिस के प्रति भरोसा बढ़ा है।

उन्होंने नोखा क्षेत्र में अपराध पर अंकुश लगाने के पुलिस की अतिरिक्त सक्रियता की बात कही। गंगा शहर शांति समिति के सदस्य द्वारा पीबीएम अस्पताल में सुधार की मांग की जिला कलेक्टर ने बताया कि पीबीएम अस्पताल में सुधार के लिए अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर की अध्यक्षता में कमेटी गठित की गई है। यह कमेटी समय-समय पर नियमित रूप से निरीक्षण कर अस्पताल की व्यवस्थाएं सुधारेगी। कोविड-19 के मरीजों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए दैनिक आधार पर समीक्षा बैठक आयोजित की जा रही है। मेहता ने कहा कि लोगों की फीडबैक के आधार पर प्रशासन पीबीएम अस्पताल में और सुधार के लिए प्रयासरत है।

बैठक में समिति के जालवाली प्रतिनिधि बागेखां द्वारा जालवाली में पानी की सप्लाई सुनिश्चित करने की मांग पर जिला कलक्टर ने शीघ्र एक्शन लेने का आश्वासन दिया। अर्जुनसर से समिति के प्रतिनिधि ने महाजन फील्ड फायरिंग रेंज एरिया खुला होने के चलते दुर्घटना होने की संभावनाओं के मद्देनजर तारबंदी करवाने की मांग की। कोलायत से  शांति समिति के सदस्य द्वारा त्योहारों के मद्देनजर कोरोना एडवाइजरी की पूरी अनुपालन के लिए बाजारों में पुलिस के अतिरिक्त जवान नियुक्त करने, ग्रामीण क्षेत्रों में सीसीटीवी कैमरे लगवाने की मांग की गई। जिला कलेक्टर ने कहा कि बीकानेर शांतिप्रिय क्षेत्र है और सभी समुदायों के लोग कानून व्यवस्था और शांति बनाए रखने में अपनी जिम्मेदारी समझते हैं और प्रशासन यह उम्मीद करता है कि किसी भी प्रकार की समस्या आने पर इसकी तुरंत सूचना पुलिस और प्रशासन को दी जाएगी।

ये रहे बैठक में मौजूद
बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रशासन एएच गौरी, अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर सुनीता चैधरी भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी कनिष्क कटारिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पवन मीना, सीओ सिटी सुभाष शर्मा, पवन कुमार सहित शांति समिति के प्रतिनिधि के रूप में बीकमपुर के रघुवीर सिंह भाटी, अरजनसर से लक्ष्मीनारायण, कोलायत से गणेशमल, घनश्याम पंचारिया, रामदयाल पंवार, पांचू से हनुमानराम गोदारा, जोगाराम, रणजीतपूरा बज्जू से नथूराम कस्वां, बींझासर सेरूणा नानूराम नैण, भागीरथ भूकर, पूगल से काशीराम जाखड़, खाजूवाला से जे एस संधु, सिटी कोतवाली बीकानेर से विनोद कुमार कोचर, बीकानेर से किशोर सिंह, अनिल कुमार सोनी, गंगाशहर से बच्छराज नाहटा, नयाशहर से अनंतराज पांण्डया उपस्थित थे।