277 वां निःशुल्क मिर्गी निदान शिविर का आयोजन

0



हैलो बीकानेर न्यूज़ , चूरू, जितेश सोनी । त्रिवेणी देवी सुरेका चेरिटेबल ट्रस्ट के तत्वाधान में पिछले 24 वर्षों से लगने वाला 277वां निःशुल्क मिर्गी निदान शिविर चूरू जिले के रतननगर कस्बे में आज सम्पन्न हुआ। इस कैम्प में भारतवर्ष के कोने-कोने से मिर्गी रोगी प्रतिमाह आते हैं एवं उनके निदान कर इस बार 720 रोगियों को 1 महिने की पूर्ण दवाई निःशुल्क वितरित की गई। मुख्य न्युरोफिजिशियन डाॅ आर के सुरेका ने बताया कि इस कैम्प में नियमित रूप से पेट एवं उदर रोग विशेषज्ञ डाॅ रोहित सुरेका व दंत विशेषज्ञ डाॅ प्रिया व रक्षित सुरेका की सेवाऐं भी निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है जिससे आने वाले मिर्गी रोगियों की दांतो की समस्याऐं व पेट व उदर रोग की समस्याऐं भी हल हो सके।हाल ही में 25 मार्च को पर्पल डे मिर्गी रोग पर जागरूकता दिवस मनाया गया व इस अवसर पर डाॅ सुरेका ने मिर्गी रोग पर एक प्रशिक्षण आयोजित किया जिसमें मिर्गी रोगियों के बारे में प्रचलित भ्रांतियों को दूर किया गया। सुरेका ने बताया कि मिर्गी दौरा पड़ने पर जूता नही सुंघाना चाहिये, प्याज नही सुंघाना चाहिये, मुंह में कपड़ा नहीं ठुंसना चाहिये बल्कि रोगी के कपड़े ढीले करके रोगी को टेढा लेटाना चाहिये व उसकी लार साफ कर देनी चाहिये। कोई भी दवाई व पानी मुंह में नही डालना चाहिये। उन्होने बताया कि मिर्गी छुआछुत की बिमारी नही है। मिर्गी रोगी यदि नियमित रूप् से दवाई लेते हैं तो जीवन यापन आसानी से कर सकते है। इस कैम्प में अशोक सुरेका, प्रकाश सुरेका, डाॅ जयसिंह, डाॅ गौरी, डाॅ सरीन, ताजु खां एवं मनोज आदि ने सहयोग दिया।