PWD के दो अधिकारियों को ACB ने रिश्वत लेते रंगे हाथों किया गिरफ्तार

0




हैलो बीकानेर न्यूज नेटवर्क, जयपुर, hellobikaner.com ए.सी. बी. मुख्यालय के निर्देश पर एस. आई. डब्ल्यू. इकाई जयपुर द्वारा आज सवाईमाधोपुर में कार्यवाही करते हुये ओमप्रकाश मीणा अधिशासी अभियंता को परिवादी से 40 हजार रूपये की रिश्वत लेते तथा मुरारी लाल मीणा सहायक अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग, जिला सवाईमाधोपुर को परिवादी से 5 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

 

 

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त महानिदेशक हेमन्त प्रियदर्शी ने बताया कि ए.सी. बी. की एस.आई. डब्ल्यू. इकाई जयपुर इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसकी फर्म द्वारा करवाये गये निर्माण एवं मेंटिनेंस कार्यों के बकाया करीब 10 लाख रुपये के बिलों को पास करवाने की एवज में ओमप्रकाश मीणा अधिशासी अभियंता एवं मुरारी लाल मीणा सहायक अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग, जिला सवाईमाधोपुर द्वारा प्रत्येक के कमीशन के रूप में 50-50 हजार रूपये रिश्वत राशि की मांग कर परेशान किया जा रहा है।

 

 

जिस पर एसीबी जयपुर के महानिरीक्षक पुलिस डॉ. विष्णुकान्त के सुपरवीजन में एसीबी की एस.आई.डब्ल्यू. इकाई जयपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ललित किशोर शर्मा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज उप अधीक्षक पुलिस  चित्रगुप्त महावर एवं उनकी टीम के साथ आज सवाईमाधोपुर में ट्रेप कार्यवाही करते हुये ओमप्रकाश मीणा पुत्र  सांवलराम मीणा निवासी वार्ड नं0 6, मीणा कॉलोनी, बजरिया, पुलिस थाना मानटाउन, जिला सवाईमाधोपुर हाल अधिशासी अभियंता को परिवादी से 40 हजार रूपये की रिश्वत लेते तथा मुरारी लाल मीणा पुत्र मंगलराम मीणा निवासी प्लॉट नं0 22, मीणा कॉलोनी, बजरिया, पुलिस थाना मानटाउन, जिला सवाईमाधोपुर हाल सहायक अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग, जिला सवाईमाधोपुर परिवादी से 5 हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।

 

 

 

उल्लेखनीय है कि शिकायत के सत्यापन के दौरान आरोपी अधिशासी अभियंता द्वारा 10 हजार रुपये तथा सहायक अभियंता द्वारा 15 हजार रुपये रिश्वत के रूप में वसूल कर लिये थे ।

 

 

एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम. एन. के निर्देशन में आरोपियों से पूछताछ जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा।