बालकियां धोरा मुक्ति मामले ने पकड़ा तूल, महंत के समर्थन में खड़े हुए संगठन

0


बीकानेर । बालकिया धोरा मुक्ति आंदोलन के कलक्टरी में बेमियादी धरने पर बैठे मंहत परमेश्वर दास बैरागी के समर्थन में राजनैतिक,गैर राजनैतिक तथा व्यापारिक संगठनों के आव्हान पर आज बीकानेर मुक्कमल बंद रहा। बंद के दौरान माहौल पूरी तरह शांत रहा और बाजारों तथा प्रमुख मागों पर ज्यादात्तर व्यापारियों और दुकानदारों ने अपनी दुकानें-प्रतिष्ठान स्वत: ही बंद रखे। हांलाकि दोपहर बाद ज्यादात्तर दुकानें और प्रतिष्ठान खुलने शुरू हो गये लेकिन दोपहर तक बंद का व्यापक असर रहा और शहर के बड़ा बाजार,फड़ बाजार,केईएम रोड़,स्टेशन रोड़,दाऊजी रोड़,कोटगेट,गंगाशहर रोड़,रानी बाजार समेत शहर के प्रमुख मार्गो पर दुकानें-प्रतिष्ठान पूरी तरह बंद रहे। मंहत बैरागी की ओर से चलाये जा रहे आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस और भाजपा के साथ सामाजिक और धार्मिक संगठनों से जुड़े प्रतिनिधी बंद को सफल बनाने के लिये शहर के बाजारों में घुमते नजर आये और जहां कहीं भी दुकानें-प्रतिष्ठान खुले दिखे वहां पहुंच कर बंद करने का आग्रह किया। बंद का असर सोमवार को स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों मे भी दिखा,बंद के समर्थन में शहर की ज्यादात्तर स्कूलों-प्रतिष्ठानों में छुट्टी घोषित कर दी गई थी। वहीं धरने पर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, श्रीकोलायत एमएलए भंवरसिंह भाटी, देहात कांगे्रस अध्यक्ष महेंद्र गहलोत, कांगे्रस नेता आनन्द सिंह सोढ़ा ने भी पहुंचकर अपना समर्थन किया।
promotion-banner-medai-03
यह प्रतिनिधी रहे सक्रिय
बंद को सफल बनाने के लिये आज बजरंगदल के दुर्गा सिंह शेखावत, भाजपा नेता युधिष्ठिर सिंह भाटी, दिलीप सिंह आडसर , मागीलाल गोदारा, काग्रेंस नेता राजकुमार कुमार किराडु, यशपाल गहलोत, जियाऊर रहमान, समाज सेवी कैलाश मारू, संजय सुखानी, सुरेन्द्र सिंह राजपुरोहित व युवा काग्रेंस नेता सोनु चड्डा शामिल थे ।
4-dharne-par-cog-ke-dodi-bhati-3

a3d26b02-9157-4c42-9c74-014de03c1575
फोटो राजेश छंगाणी