मधु आचार्य ‘आशावादी’ की तीन राजस्थानी पुस्तकों का लोकार्पण-समारोह

0


बीकानेर। बीकानेर केंद्रीय साहित्य अकादेमी, नई दिल्ली और राजस्थनी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी बीकानेर से राजस्थानी साहित्य हेतु सम्मानित कथाकार मधु आचार्य ‘आशावादी’ की तीन राजस्थानी पुस्तकों का लोकार्पण वरिष्ठ नाटककार-आलोचक डॉ. अर्जुनदेव चारण, वरिष्ठ कहानीकार-संपादक रामस्वरूप किसान एवं समाजसेवी रामकिशन आचार्य करेंगे। गुरुवार 12 जनवरी को शाम 04.00 बजे श्रीरामसर रोड़ स्थित धरणीधर रंगमंच में होने वाले बीकानेर के इस कार्यक्रम में राजस्थानी साहित्य में यह पहला अवसर होगा जब एक साहित्यकार की तीन अलग-अलग विधाओं में ऋचा (इंडिया) पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित तीन पुस्तकों का लोकार्पण होगा।
कार्यक्रम के समन्वय कवि-कहानीकार राजेन्द्र जोशी ने बताया कि नट साहित्य-संस्कृति संस्थान द्वारा आयोजित इस लोकार्पण-कार्यक्रम में मधु आचार्य ‘आशावादी’ का सद्य प्रकाशित उपन्यास “भूत भूत रो गळो मोसै” कहानी संग्रह “हेत रो हेलो” और कविता संग्रह “अेक पग आभै मांय” का लोकार्पण होगा। जोशी ने बताया कि चर्चित कवि-आलोचक डॉ. नीरज दइया एवं कवि-कहानीकार डॉ. सत्यनारायण सोनी पुस्तकों पर पत्रवाचन करेंगे तथा कार्यक्रम का संचालन युवा कवि-नाटककार हरीश बी. शर्मा करेंगे।