शहीद हेमू से प्रेरणा लेने का आह्वान, दीपमाला 21 को

0



बीकानेर। भारतीय सिंधु सभा द्वारा आज दिनांक 20 जनवरी 17 को शहीद हेमू कालानी 75 वें बलिदान दिवस 21 जनवरी 17 की पूर्व संध्या पर युवाओं की प्रेरणा अमर शहीद हेमू कालानी स्टीकर एवं फ्लैक्स बैनर का विमोचन कार्यक्रम आयोजित किया गया। अध्यक्षता पवन देवानी और कमलेश सत्यानी ने की। मुख्य अतिथि लालचंद तुलस्यानी, अर्जुन आवतरामानी, मनुमल सदारंगानी थे। सुदर्शना नगर में साईं बाबा जी के मंदिर में आयोजित समारोह में अतिथियों ने फ्लैक्स व स्टीकर का विमोचन किया। इस अवसर पर युवाओं की प्रेरणा अमर शहीद हेमू कालानी की शहादत को नमन करते हुए ‘‘ देशभक्त हेमू की शहादत को सलाम ’’ विषयक संगोष्ठी में सभा पदाधिकारियों हासानंद मंघवानी, श्याम आहूजा, विनोद गिडवानी, धर्मेन्द्र बेलानी एवं समाज के केशव खत्री, राजकुमार वलीरमानी, सुगनचंद तुलस्यानी आदि विद्वजनों ने उपस्थित युवाओं को शहीद हेमू कालानी के जीवनवृत्त की जानकारी दी तथा राष्ट्र के विकास में अपना अमूल्य योगदान बढ़चढ़ कर देने की अपील की। आहूजा ने बीते दिनों प्रदेश स्तरीय अभ्यास वर्ग में खाटूश्यामजी में हेमू कालानी के जारी किएगए फोल्डर संबंधी जानकारी दी तथा शहीद के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाशडालते हुए उनसे प्रेरणा लेने का आह्वान किया। महानगर अध्यक्ष किशन सदारंगानी ने वर्ष 2017-18 को सिन्धी भाषा स्वर्ण जयंती वर्ष के रूप में मनाए जाने के बारे में बताते हुए कहा कि बीकानेर में सिंधी बाल साहित्य एवं युवाओं के पठन पाठन की रुचि की अभिवृद्धि के लिए सिन्धी रचनाकारों एवं कलाकारों को आगे आना जरूरी है। जिलाध्यक्ष अशोक आसवानी, इकाई अध्यक्ष जगदीश गंगवानी ने बीकानेर एवं प्रदेश में शहीद हेमू कालानी की स्मृति में की जाने वाली तमाम गतिविधियों को बताया। इस दौरान राजकुमार मोटवानी, दुर्गादास सदारंगानी, सोनू पुजारी ने युवा शहीद हेमू पर आधारित एक सिंधी गीत, साईं बाबा व झूलेलाल के भजनों की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर किशन सदारंगानी ने बाल संस्कार शिविर, योग शिविर, हेमू कालानी पर चर्चा, बालकों के लिए रंगभरो प्रतियोगिता, सिन्धु स्मृति दिवस आदि आयोजनों की तिथियों की घोषणा करते हुए इनमें अधिक से अधिक संख्या में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की। सदारंगानी ने बताया कि समारोह में काफी संख्या में बालकों व महिलाओं ने भी हिस्सा लिया। सभी ने सामूहिक लोक भजन सुनाए। हेमू के स्टीकरों को प्रखंडों व इकाइयों द्वारा अपने अपने क्षेत्र के प्रमुख स्थानों पर प्रदर्शित करने के लिए वितरित किया गया। बलिदान दिवस 21 जनवरी को शाम छह बजे हेमू कालानी सर्किल व्यास कालोनी में दीपमाला व पुष्पांजलि का कार्यक्रम होगा।