बीकानेर में ग्रीन कैमिस्ट्री पर होगा तीन दिवसीय अतंर्राष्ट्रीय सिम्पोजियम, तैयारियां जोरों पर…

0
hellobikaner.com




हैलो बीकानेर न्यूज़ नेटवर्क hellobikaner.com डूंगर महाविद्यालय बीकानेर, रायल सोसाइटी आफ कैमिस्ट्री लंदन एवं ग्रीन कैमिस्ट्री नेटवर्क सेंटर दिल्ली के संयुक्त तत्वाधान में 22-24 दिसंबर 2022 को आयोजित किये जाने वाले अतंर्राष्ट्रीय सिम्पोजियम व वर्कशॉप की तैयारियों के सिलसिले में आज रसायन विभाग में सिम्पोजियम के पैटर्न व डूंगर महाविद्यालय, बीकानेर प्राचार्य डॉ. जी.पी. सिंह की अध्यक्षता में पे्रस कांफ्रेस आयोजित की गई।

डॉ. जी.पी. सिंह ने बताया की उद्घाटन सत्र दिनांक 22.12.2022 को प्रात: 11.00 बजे प्रताप सभागार डूंगर महाविद्यालय, बीकानेर में आयोजित किया जायेगा एवं तकनीकी सत्रों का आयोजन प्रताप सभागार के साथ रसायन विभाग डूंगर महाविद्यालय के विडियो कान्फ्रेंस हाल, सोफिस्टीकेटड इन्स्टूमेन्टस प्रयोगशाला एवं स्मार्ट साईस लैब में आयोजित किये जायेगें।

 

सिम्पोजियम समन्वयक डॉ. नरेन्द्र भोजक ने तीनों दिनों के कार्यक्रमों की रूपरेखा बताते हुए कहा कि तीन दिनों कुल 9 सत्र आयोजित किये जायेगें इसके अतिरिक्त पोस्टर सत्र, ई-पोस्टर सत्र एवं साइंस विडियों सत्र के साथ साथ प्रथम बार एआर वीआर सत्र का आयोजन भी होगा। तीन दिन की कार्यशाला में 200 से अधिक वैज्ञानिक डेलीगेट भाग लेगें एवं इसमे देश विदेश के 40 से अधिक ख्यातिनाम वैज्ञानिक मिलकर भोजन, जल, दवाई एवं उत्प्रेरक के संगम व अनुप्रयोग का तीन दिनों तक विष्लेषण करेगें बीकानेर की फूड एवं सेरेमिक्स इंडस्ट्री को मिलेगा शोधका लाभ।

 

सिम्पोजियम में रायल सोसाइटी के एशिया सचिव प्रोफेसर आर.के. शर्मा, लदाख विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एस.के. मेहता, अमेरिका के प्रोफेसर बी.सी.दास, जापान के प्रोफेसर टाकोसिरा एकटिप्सु, हंगरी के प्रोफेसर जार्ज केजिलवीच, अर्जेन्टीना के प्रोफेसर इगनिसिया रिंगटोल, अल्जिरिया के प्रोफेसर नाररूदीन हासिनी, मैक्डोनिया के प्रोफेसर हेडविज बाल्सिकर, लंदन (इग्ंलैड) के डॉ. कृष्णा, अमेरिका से डॉ. क्रिस्टीना एडम, डीएवी विश्वविद्यालय के पूर्व कूलपति प्रो. आर के महाजन, कश्मीर विश्वविद्यालय के प्रो. अल्ताफ हुसैन पंडित, आईआईटी मुंबई से प्रो. नंद किशोर एवं प्रो. संदीप कार, आईआईटी गांघीनगर से डॉ. भास्कर दता, टांटिया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एम एम सक्सैना, कोचीन विश्वविद्यालय से प्रो. एम आर.पी कुरूप, अहमदाबाद विश्वविद्यालय से प्रो. वी.के. जैन, पंजाब से से प्रो. एस रविचंद्रन, कोकाराझार आसाम से डॉ. मानसी बुजर बरहुआ जोधपुर विश्वविद्यालय से प्रो. पी.के. शर्मा, अजमेर विश्वविद्यालय से प्रो. रीटा मेहरा, फीनिक्स अमेरिका से डॉ. परिधि, आसाम से डॉ. प्रांजल कलिता से विषय विशेषज्ञ के रूप में व्याख्यान देगें। इसके अतिरिक्त हैड्स ऑन ट्रेनिंग कार्यक्रम में अन्र्तराष्ट्रीय उपकरण कम्पनी पर्किंन एल्मर एवं एआर वीआर कम्पनी कैम्फराल तथा ग्रीन कैमेस्ट्रिी नेटवर्क सेंटर दिल्ली द्वारा प्रयोगो का प्रदर्षन मुख्य आकर्षण रहेगा।

प्राचार्य डॉ. जी.पी सिंह ने बताया कि संयोजक डॉ. एच.एस. भंडारी, सह संयोजक डॉ. एस.एन. जाटोलिया व डॉ. एस.के. वर्मा, आयोजन सचिव डॉ. उमा राठौड़, डॉ. राजाराम कोषाध्यक्ष डा.सुरूचि गुप्ता, डा. संगीता शर्मा एवं डा. एस के यादव डा.सुरूचि गुप्ता, डा. संगीता शर्मा एवं डा. एस के यादव सह आयोजन सचिव डॉ. प्रतिभा पायल, डॉ. मधुसूदन एवं डॉ. राजेन्द्र सिंह डा.सुरूचि गुप्ता, डा. संगीता शर्मा एवं डा. एस के यादव कार्यक्रम को अंजाम देगें व सफल सुचारू संचालन हेतु 15 कमेटियों का गठन किया गया है। बीकानेर संभाग के कॉलेज शिक्षा सह निदेशक डॉ. राकेश हर्ष, हिन्दू कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय के प्राचार्य डॉ. अंजू श्रीवास्तव एवं रसायन विभाग की डॉ. सुषमा जैन को चेयरपर्सन की जिम्मेवारी दी गई है। इसके अतिरिक्त डॉ. देवेश खडेलवाल, डॉ. एम.डी. शर्मा व डॉ. राजेन्द्र पुरोहित सह चेयरपर्सन नियुक्त किये गये हैं ।

 

संयोजक डॉ. एच.एस. भंडारी के अनुसार हैंडस ऑन सेषन के दौरान एफटीआईआर यूवी विसिबल स्पेक्टोफोटोमीटर,, क्रोमैटोग्राफी एवं जीएमबीआर के बारे में ट्रेनिंग दी जायेगी। सह संयोजक डॉ. एस के वर्मा के अनुसार स्मार्ट साइंस लैब में वर्चअुल प्रयोग के बारे में डेलीगेट्स को ना केवल बताया जायेगा वरन उन्हें इन पर काम करने व सीखने का अवसर प्रदान किया जायेगा। आयोजन सचिव डा. राजा राम व डा. एस.एन जाटोलिया के अनुसार बाहर से आने वाले 150 से अधिक प्रतिभागियों के रहने आदि एग्रीकल्चर विष्वविद्यालय, एव एनआरसीसी, गल्र्स हास्टल सहित कई होटलों में भी व्यवस्था की गई है। आयोजन सचिव डॉ. उमा राठौड़ के अनुसार लगभग 50 पोस्टर डेलीगेट्स द्वारा प्रदर्शित किये जायेगें इनमें से युवा वैज्ञानिक पुरस्कार सहित बेस्ट पोस्टर पुरस्कार भी विभिन्न कैटेगरी में दिये जायेंगें।