वरिष्ठ सहायक को लगी ACB कार्यवाही की भनक, मौके से रिश्वत राशि कर दी खुर्द-बुर्द, गिरफ्तार

0



आवास एवं अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी

 

 

जयपुर hellobikaner.com भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो मुख्यालय के निर्देश पर एसआईडब्ल्यू इकाई, जयपुर द्वारा आज कार्यवाही करते हुये विनय कुमार वरिष्ठ सहायक कार्यालय उपमहानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग, जयपुर को परिवादी से 5 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

 

 

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि ए.सी.बी. की एसआईडब्ल्यू इकाई, जयपुर इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसके द्वारा पिछले वर्ष खरीदे गये ई-स्टाम्प की राशि करीब 92 हजार रुपये को रिफंड करने की एवज में विनय कुमार वरिष्ठ सहायक कार्यालय उपमहानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग, जयपुर द्वारा 5 हजार रूपये की रिश्वत राशि मांगकर परेशान किया जा रहा है।

 

 

जिस पर एसीबी जयपुर के उप महानिरीक्षक पुलिस सवाई सिंह गोदारा के सुपरविजन में एसीबी की एसआईडब्ल्यू इकाई, जयपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ललित किशोर शर्मा के निर्देशन में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज उप अधीक्षक पुलिस चित्रगुप्त एवं उनकी टीम द्वारा ट्रेप कार्यवाही करते हुये विनय कुमार पुत्र केशव चंद जाटव निवासी अम्बेडकर कॉलोनी, महुआ, जिला दौसा हाल वरिष्ठ सहायक कार्यालय उपमहानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग, जयपुर को परिवादी से 5 हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।

 

उल्लेखनीय है कि आरोपी वरिष्ठ सहायक द्वारा एसीबी कार्यवाही की भनक लगने पर मौके से रिश्वत राशि खुर्द-बुर्द कर दी, जिसकी तलाश की जा रही है।

 

एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम. एन. के निर्देशन में आरोपी के निवास, अन्य ठिकानों की तलाशी एवं पूछताछ जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा।

बीकानेर में लम्पी बीमारी से मृत गायों को उठाने के लिए ठेकेदार के आदमी 1000 रूपये की कर रहे है मांग, सुने ऑडियो